Top

मुलायम सिंह के घर पहुंचे बिजली विभाग के अफसर, थमाया 4.10 लाख बकाए का नोटिस

गाँव कनेक्शनगाँव कनेक्शन   21 April 2017 10:42 AM GMT

मुलायम सिंह के घर पहुंचे बिजली विभाग के अफसर, थमाया 4.10 लाख बकाए का नोटिससमाजवादी पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव।

इटावा। पावर कॉर्पोरेशन के अधिकारियों ने गुरुवार को सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के घर पर जांच की। जांच में पता चला कि उनके घर में सिर्फ पांच किलोवाट का लोड है। जिसे अधिकारियों ने बढ़ाकर आठ गुना बढ़ाकर 40 किलोवाट दिया। दरअसल, कोठी करीब आठ माह पूर्व नई बनी थी तब पुरानी कोठी का पांच किलोवाट लोड स्वीकृत था। नई कोठी बनने के बाद लोड बढ़ाने के लिए मुलायम सिंह ने बिजली विभाग में आवेदन तो कर दिया था परंतु कार्यवाही पूरी नहीं हो पाई थी।

इसके अलावा मुलायम पर 4 लाख 10 हजार के ज्यादा कि बिजली बिल बकाया भी निकला है। इसे जमा करवाने के लिए विभाग ने 30 अप्रैल तक का समय दिया है। गुरुवार दोपहर एसडीओ आशुतोष वर्मा अपनी टीम के साथ मुलायम की कोठी में पहुंचे और नया लोड बढ़ाने की कार्यवाही की। अब लोड 40 किलोवाट कर दिया गया है।

उत्तर प्रदेश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड आरके ग्रोवर ने बताया कि लोड पहले ही बढ़ा दिया था, कुछ औपचारिकताएं पूरी होनी थीं जिन्हें आज पूरा किया गया है। 40 किलोवाट लोड के लिए नया मीटर कोठी में लगाया गया है। अधिशाषी अभियंता आरके ग्रोवर ने बताया कि मुलायम की कोठी पर बिजली बिल का चार लाख 36 हजार बकाया है, जिसे सात मई तक जमा करना है।

मुलायम सिंह का बंगला करीब बीस साल पुराना है, जिसे पिछले दो साल में तोड़कर नया बनाया गया है। इस बंगले में एक दर्जन से ज्यादा कमरे हैं। घर को ठंडा रखने के लिए एसी प्लांट लगा है। घर में कई लिफ्ट हैं, जिनकी वजह से बिजली की खपत काफी ज्यादा है। बिजली महकमे के लोग एसडीओ आशुतोष वर्मा के नेतृत्व में तीन गाड़ियों में मुलायम के बंगले पहुंचे। बंगले में मौजूद केयर टेकर सतीश ने सबको अंदर बुलाकर बंगले का गेट बंद कर लिया ताकि इसका बाहर ज्यादा प्रचार न हो। मुलायम के बंगले में करीब 15-20 लोगों का स्टाफ रहता है। इसके अलावा उनके सिक्योरिटी के लोग रहते हैं। मुलायम भले यहां कम आते हों लेकिन यहां रहने वाला स्टाफ भी बिजली का इस्तेमाल करता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।


Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.