नवरात्रि में हो सकता है योगी मंत्रिमंडल का विस्तार

नवरात्रि में हो सकता है योगी मंत्रिमंडल का विस्तारयोगी की सरकार में अभी 22 कैबिनेट, 11 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और 13 राज्यमंत्री शामिल हैं।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद फुल एक्शन में काम कर रहे आदित्यानाथ योगी के मंत्रिमंडल का विस्तार नवरात्र में हो सकता है। एक हफ्ते पहले गठित हुई योगी सरकार में 49 मंत्रियों को शामिल किय गया है जिसमें जातीय और क्षेत्रीय संतुलन का पूरा ख्याल रखा गया है लेकिन इसके बाद भी इस मंत्रिमंडल में कई मंत्रियों के पस अतिरिक्त विभिन्न विभागों के अतिरिक्त प्रभार हैं।

विधायक नंबर 404: विधानसभा में आज भी रिजर्व है अंग्रेजों के लिए एक सीट

ऐसे में योगी सत्ता के विकेन्द्रीकरण नीति में तहत कई और लोगों को अपने मंत्रिमंडल में शामिल कर सकते हैं। इसके संकेत उन्होंने अपने दो दिवसीय गोरखपुर दौरे के दौरान दे चुके हैं। बीजेपी के कई ऐसे दिग्गज नेता हैं जिनको योगी मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली है। ऐसे में माना जा रहा है कि केन्द्रीय नेतृत्व की सलाह पर योगी अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे। योगी की सरकार में अभी 22 कैबिनेट, 11 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और 13 राज्यमंत्री शामिल हैं। इसके अलावा दो उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा और केशव प्रसाद मौर्य इसमें शामिल हैं।

गाॅंव से चिट्टी: ‘मुख्यमंत्री जी एक बार किसी प्राथमिक स्कूल का भी दौरा कीजिए’

आदित्यनाथ योगी की सरकार में वैसे तो सभी जाति और वर्ग को उचित स्थान दिया गया है लेकिन प्रदेश की दो सबसे प्रभावशाली जातियों ओबीसी में यादव और एससी में जाटव समाज की हिस्सेदारी बहुत कम है। सपा और बसपा का प्रमुख वोटबैंक माने जाने वाले इस जाति के प्रतिनिधित्व को लेकर पार्टी के अंदर सवाल भी उठ रहे थे। बसपा और सपा के वोटबैंक में सेंधमारी की रणनीति पर काम कर रहे बीजेपी के रणनीतिकारों के निशाने पर भी यह जातियां हैं। योगी के मंत्रिमंडल विस्तार में पूर्वांचल और बुंदेलखंड से भी कुछ नए लोगों को मौका मिल सकता है। इस बार के चुनाव में इन दोनों क्षेत्रों में जनता ने बीजेपी को सबसे ज्यादा वोट किए हैं। हालांकि योगी खुद पूर्वांचल से आते हैं लेकिन इसके बाद भी वहां से कुछ और लोगों को मंत्री बनाने की मांग उठी है।

ये भी पढ़िए- फिल्म रिव्यू: ‘No means no’ को स्वरा ने अपने ही अंदाज में बता दिया

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top