अखाड‍़ा परिषद ने कुंभ में शाही स्‍नान के बहिष्‍कार का फैसला लिया वापस, स्नान की तारीखें घोषित

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने अपना निर्णय वापस लेते हुए कुम्भ मेले में शाही स्नान के बहिष्कार का फैसला वापस ले लिया। परिषद ने कहा कि यह फैसला सीएम आदित्यनाथ के सम्मान में लिया है।

अखाड‍़ा परिषद ने कुंभ में शाही स्‍नान के बहिष्‍कार का फैसला लिया वापस, स्नान की तारीखें घोषित

इलाहाबाद। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज संगमनगरी इलाहाबाद में विकास कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करने पहुंचे। दारागंज के बक्शी बांध से अर्धकुंभ की तैयारियों का स्थलीय निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने बाघम्बरी गद्दी मठ में अखाड़ा परिषद के कार्यालय पहुंचे। यहां पर सीएम ने अखाड़ा परिषद के सदस्यों के साथ उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना व स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह के साथ भोजन प्रसाद ग्रहण किया।
शाही स्नान के बहिष्कार का फैसला वापस
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आज इलाहाबाद आगमन से पहले अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने अपना निर्णय वापस लेते हुए कुम्भ मेले में शाही स्नान के बहिष्कार का अपना फैसला वापस ले लिया। परिषद ने कहा कि यह फैसला उसने सीएम योगी आदित्यनाथ के सम्मान में लिया है। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा कि सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ भी एक संत हैं और अर्धकुंभ मेला को लेकर सीएम के साथ अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की आज बैठक भी है। इसी कारण 16 मार्च को लिया गया शाही स्नान के बहिष्कार का फैसला सर्व सम्मति से वापस ले लिया जाता है।

साभार इंटरनेट

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी की अध्यक्षता में मठ बाघम्बरी गद्दी में हुई अहम बैठक में सात प्रस्तावों पर साधु-संतों ने मुहर लगाई है। बैठक के दौरान यह प्रस्ताव पास किया गया है कि अर्धकुंभ से पहले अखाड़े अपने महामण्डलेश्वर और श्रीमहंत की सूची अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद को मुहैया करा देंगे। जिससे प्रशासन को यह सूची उपलब्ध कराई जा सके। इस बार अर्धकुंभ मेला में 15 जनवरी को मकर संक्रांति, 21 जनवरी पौष पूर्णिमा, 04 फरवरी मौनी अमावस्या, 10 फरवरी बसंत पंचमी, 19 फरवरी माघ पूर्णिमा और चार मार्च को महाशिवरात्रि का स्नान होगा। चार मार्च को मेला का समापन हो जाएगा।

Share it
Top