पशु पालकों ने सस्ते से लेकर महंगे पशु तक का कराया बीमा 

पशु पालकों ने सस्ते से लेकर महंगे पशु तक का कराया बीमा पशु बीमा।

इश्त्याक खान (स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क)

औरैया। महंगे पशुओं की होने वाली आकस्मिक मौत की क्षति पूर्ति मालिकों को कराने लिए गाँव कनेक्शन फाउंडेशन के द्वारा मुढी रसूलपुर में शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें पशु पालकों ने बकरी, गाय और भैंस का बीमा कराया।

जिला मुख्यालय से 18 किलोमीटर दूर मुढी रसूलपुर गाँव में पशुओं का बीमा करने के लिए शिविर लगाया गया। जहां चिकित्सक डा. एके सिंह ने पशु पालकों को बताया कि हिन्दुस्तान इंश्योरेंस ब्रोकर लिमिटेड पुरानी कंपनी ओरिएंटल इंश्योरेंस बीमा कंपनी के साथ मिलकर काम कर रही है। जिले के प्रत्येक अस्पताल के चिकित्सक को 50 पशुओ का बीमा कराने का लक्ष्य दिया गया है।

जिले में 18 राजकीय पशु अस्पताल है। जिले में कुल 900 पशुओं का बीमा कराया जाएगा। छोटे जानवर पर जैसे बकरी का चार हजार से लेकर 10 हजार रूपए तक की धनराशि का बीमा किया जा रहा है, जिसमें 93 का प्रीमियम है 4 हजार रूपए की बकरी पर इसमें किसान को मात्र 23 रूपए जमा करने होंगे बाकी सरकार करेगी।

इ। जिसमें 348 प्रीमियम होगा इसमें किसान को 87 और 40 हजार वाले पशु पर 928 में किसान को 232 रूपए जमा करने होंगे। इसी प्रकार भैंस में 40 से लेकर 60 हजार तक की भैंस का प्रीमियम 1392 है जिसमें किसान को 348 रूपए जमा करने होंगे। इस बीमा में पशु पालक को पशु के मृत होने पर ही बीमा की धनराशि देय होगी। मुढी में किसानों ने बकरी, गाय और भैंस सहित कुल 11 जानवरों का बीमा कराया। शिविर में डा.मोहर सिंह, डा.कमल किशोर राजपूत, पशुधन प्रसार अधिकारी अंकित शुक्ला मौजूद रहे।

विकलांगता पर भी मिलेगा बीमा

परमानेंट डिशएबिलिटी बीमा (पीडीबी) से पशु पालक को दो प्रकार का लाभ होगा। इसमें अगर पशु मर जाता है तो भी बीमा मिलेगा और अगर विकलांग हो जाता है तो भी बीमा मिलेगा। इसमें दोनों स्थिति में कंपनी बीमा वहन करती है। लेकिन अन्य बीमा से यह बीमा पालिसी सात से आठ रुपए महंगी होती है।

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top