पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे फतेह बहादुर सिंह बने प्रोटेम स्पीकर

पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे फतेह बहादुर सिंह बने प्रोटेम स्पीकरशपथ लेते फतेह बहादुर सिंह।

लखनऊ। गारेखपुर जिले के हरनही गांव के रहने वाले और साल 1985 से लेकर 1988 तक मुख्यमंत्री रहे वीर बहादुर सिंह के बेटे फतेह बहादुर सिंह ने सोमवार को राजभवन में उत्तर प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर पद का शपथ लिया। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी की तरह फतेहबहादुर सिंह संबंध भी गोरखपुर जिले से है। छठवीं बार विधायक बने फतेहबहादुर सिंह कैम्पियरगंज विधानसभा सीटे से बीजेपी उम्मीदवार के रूप में सपा-कांग्रेस उम्मीदवार चिंता यादव को चुनाव हराकर विधायक बने हैं।

गोल्फ, घुड़सवारी और निशानेबाजी के शाैकीन फतेह बहादुर सिंह यह नेता 11वीं विधानसभा के लिए 1991 में पहली बार विधायक चुने गए थे। इसके बाद 13वीं, 14वीं, 15वीं, 16वीं और 17वीं विधानसभा के लिए निर्वाचित फतेह बहादुर सिंह कल्याण सिंह, रामप्रकाश गुप्ता, राजनाथ सिंह और मायावती की सरकार में मंत्री रह चुके हैं।

2012 के विधानसभा चुनाव में जब मायावती ने इनका टिकट काट दिया तो फतेहबहादुर शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के टिकट पर कैम्पियरगंज से चुनाव लड़कर जीत हासिल की थी। इस बार के विधानसभा चुनाव के पहले ये बीजेपी में शामिल हो गए थे। जबकि इनके पिता वीर बहादुर सिंह कांग्रेस के कद्दावर नेता थे।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इस बार माना जा रहा था कि इनको बीजेपी सरकार में मंत्री बनाया जाएगा लेकिन योगी मंत्रिमंडल में जगह पाने से वंचित रह गए। वरिष्ठ विधायक होने के नाते इन्हें प्रोटेम स्पीकर बनाया गया है। 17वीं विधानसभा के निर्वाचित विधायकों को शपथ दिलाने और नए विधानसभा अध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया पूरी कराना इनका दायित्व होगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top