पत्रकारों को निशाना बनाए जाने के विरोध बाराबंकी में प्रदर्शन, सुरक्षा की मांग

पत्रकारों को निशाना बनाए जाने के विरोध बाराबंकी में प्रदर्शन, सुरक्षा की मांगतलसील में धरने पर पत्रकार। 

फतेहपुर (बाराबंकी)। पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या और बिहार और यूपी के पत्रकारों पर हमलों के विरोध में पत्रकारों ने विरोध प्रदर्शन किया। यूपी के बाराबंकी जिले में पत्रकारों ने मौन जुलूस निकालकर पत्रकारों की सुरक्षा की मांग की।

बाराबंकी जिले के तहसील फतेहपुर में दर्जनों पत्रकारों ने एकत्र होकर देश में पत्रकारों को निशाना बनाए जाने का विरोध किया। इस दौरान सूरतगंज, बेलहरा, छेदा से लेकर आसपास के दर्जनों पत्रकारों ने हाथों में बैनर और मुंह पर पट्टी बांधकर मौन जुलून निकाला। उप जिलाधिकारी फतेहपुर को सौंपे ज्ञापन में पत्रकारों ने स्थानीय स्तर पर पत्रकारों की सुरक्षा की भी मांग की। इसके साथ ही फतेहपुर कोतवाल द्वारा पत्रकार अशोक रस्तोरी पर किए गए अभ्रद व्यवहार के लिए उन्हें निलंबित कर केस दर्ज करने की मांग की गई।

सड़क पर दिखे पत्रकार

इस जुलूस में ग्रामीण से लेकर शहरी पत्रकार शामिल रहे। पत्रकारों में दिशि बाजपेई, विजय प्रताप सिंह, वीरेंद्र सिंह, वीरेंद्र शुक्ला, विजय सिंह, दावुद हयात, रामप्रसाद, संतोष कुमार, अशोक कुमार, सत्यप्रकाश और वसंत लाल सहित कई पत्रकार शामिल रहे। प्रदर्शऩ की अगुवाई प्रेस क्लब के महामंत्री नलिन निगम ने की।

फतेहपुर में मौन जुलूस निकालते पत्रकार।

संबंधित ख़बरें

पत्रकार गौरी लंकेश का लिखा आख़िरी संपादकीय

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top