रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति की बेटी बोली- निर्दोष हैं मेरे पापा

रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति की बेटी बोली- निर्दोष हैं मेरे पापागायत्री प्रजापति की पत्नी और बेटियां।

लखनऊ। जेल में बंद समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री और रेप के आरोपी गायत्री प्रसाद प्रजापति का परिवार लखनऊ में सीएम आदित्यनाथ योगी के जनता दरबार में इंसाफ मांगने पहुंचा है। गायत्री प्रजापति का परिवार लखनऊ में सीएम योगी के जनता दरबार में मुलाकात की । गायत्री प्रजापति की बेटी सुध ने बताया, “हमारे पास सबूत है कि मेरे पापा बेगुनाह है।” गायत्री प्रजापति मां-बेटी से रेप के मामले में जेल में बंद हैं। उनकी जमानत भी खारिज हो गई है।

फिर जेल भेजे गए गायत्री प्रजापति

इससे पहले, लखनऊ कोर्ट ने छेड़छाड़ के एक मामले में रेप के आरोपी गायत्री प्रसाद प्रजापति को 12 मई तक के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था। कोर्ट ने यह आदेश गोमतीनगर थाने के एसआई और इस मामले के विवेचक हरिकेश राय की अर्जी पर दिया। इस अर्जी पर सुनवाई के दौरान आरोपी गायत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जेल से अदालत के समक्ष मौजूद थे। गैंगरेप के अलावा यह तीसरा मामला है, जिसमें गायत्री को न्यायिक हिरासत में लिया गया था। विवेचक का कहना था कि 20 अक्टूबर, 2016 को इस मामले की एफआईआर चित्रकूट की रहने वाली पीड़िता ने दर्ज कराई थी, जिसमें गायत्री व आशीष शुक्ला को नामजद किया था।

मंख्यमंत्री के आवास के बाहर मीडिया से बात करता गायत्री का परिवार।

जमानत देने वाले जज हुए थे निलंबित

इससे पहले इलाहाबाद हाई कोर्ट की प्रशासनिक समिति ने दुष्कर्म के एक मामले में आरोपी गायत्री प्रजाप्रति को जमानत देने वाले न्यायाधीश ओम प्रकाश मिश्रा को निलंबित कर दिया। मुख्य न्यायाधीश डीबी. भोंसले ने गायत्री प्रसाद प्रजापति को जमानत दिए जाने न्यायाधीश के आदेश पर कड़ा रुख अख्तियार करते हुए अतिरिक्त जिला और सत्र अदालत के न्यायाधीश की सभी शक्तियां भी छीन लीं।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

30 अप्रैल को रिटायर होने वाले थे जज

ओम प्रकाश मिश्रा लखनऊ में बाल यौन अपराध संरक्षण (पोस्को) अदालत में थे। वह 30 अप्रैल को सेवानिवृत्त होने वाले थे। उच्च न्यायालय के महापंजीयक डीके. सिंह ने शनिवार को मिश्रा के निलंबन की पुष्टि की।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

First Published: 2017-05-01 12:12:10.0

Share it
Share it
Share it
Top