लापरवाह शिक्षकों पर कसी जाएगी नकेल

Meenal TingalMeenal Tingal   23 April 2017 5:08 AM GMT

लापरवाह शिक्षकों पर कसी जाएगी नकेलयोगी सरकार में शिक्षकों की मनमानियों पर लगेगी रोक।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। स्कूलों में छात्र हैं, लेकिन शिक्षक गायब। कहीं शिक्षक की जगह उसका भाई पढ़ाता मिला। ऐसे कई मामले अक्सर सामने आते रहते हैं। शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए स्कूलों में शिक्षकों की मनमानियों पर रोक लगाने के लिए प्राइमरी स्कूलों में शिक्षकों की फोटो चस्पा की जाएगी। फोटो के साथ शिक्षकों का फोन नम्बर भी दर्ज किया जाएगा। यह निर्देश मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी द्वारा दिए गए हैं।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

मनमानी करने वाले शिक्षकों को यह निर्देश भले ही रास न आ रहे हों, लेकिन वह शिक्षक काफी राहत महसूस कर रहे हैं जो अपनी ड्यूटी जिम्मेदारी से निभाने स्कूलों में पहुंचते रहे हैं।

उत्तर प्रदेश सीनियर बेसिक शिक्षक संघ के प्रान्तीय मंत्री व आदर्श जनता जूनियर हाईस्कूल, अहरोरा के शिक्षक महतार सिंह कहते हैं, “बहुत अच्छा हुआ जो यह निर्देश दिए गये हैं। यह उन सभी ईमानदार शिक्षकों को सरकार का तोहफा है जो अपनी ड्यूटी को पूरी जिम्मेदारी के साथ निभाते हुए निर्धारित समय तक स्कूलों में पढ़ा रहे हैं।”

कुछ महीनों पूर्व गोंडा में एक मामला सामने आया था। गोंडा के वजीरगंज ब्लॉक स्थित रामपुर खास विद्यालय में बीएसए द्वारा किये गये निरीक्षण के दौरान शिक्षक की जगह उसका भाई पढ़ाता मिला था। शिक्षक पिछले एक वर्ष से स्कूल में पढ़ाने नहीं आ रहा था, लेकिन उसकी उपस्थिति प्रतिदिन दर्ज की जा रही थी और बच्चे भाई को ही शिक्षक समझते रहे थे। ऐसे में कक्षा में शिक्षक की तस्वीर बच्चों को शिक्षक को पहचानने में मदद करेगी।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय कठिंगरा, काकोरी के प्रधानाध्यापक शाहिद अली आब्दी कहते हैं, “मैं और मेरे स्कूल के सभी शिक्षक अपनी जिम्मेदारी अच्छी तरह से निभाते हैं और अपना पूरा समय स्कूल में देते हैं। मैं खुद स्कूल में पढ़ा रहे शिक्षकों की उपस्थिति दर्ज करता हूं और अपनी भी करता हूं। लेकिन कई बार इस तरह की बातें स्कूल में होती रहती हैं कि फलां स्कूल में शिक्षक नहीं आ रहे या कोई और पढ़ा रहा है तो लगता है कि बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है। इस निर्देश के बाद कुछ न कुछ फायदा बच्चों को जरूर होगा, जिससे राहत महसूस हो रही है।”

कक्षा में शिक्षकों की फोटो चस्पा कर उस पर मोबाइल नम्बर दर्ज किये जाने के सम्बन्ध में अभी कोई शासनादेश प्राप्त नहीं हुआ है। जैसे ही इस सम्बन्ध में शासनादेश मिलेगा, इसको सभी स्कूलों में लागू करवाने के लिए जिलों के बीएसए को निर्देश जारी कर दिये जाएंगे।
महेन्द्र सिंह राणा, सहायक निदेशक मण्डलीय, बेसिक शिक्षा विभाग

बेसिक शिक्षा विभाग के सहायक निदेशक मण्डलीय, महेन्द्र सिंह राणा ने कहा, “कक्षा में शिक्षकों की फोटो चस्पा कर उस पर मोबाइल नम्बर दर्ज किये जाने के सम्बन्ध में अभी कोई शासनादेश प्राप्त नहीं हुआ है। जैसे ही इस सम्बन्ध में शासनादेश मिलेगा, इसको सभी स्कूलों में लागू करवाने के लिए जिलों के बीएसए को निर्देश जारी कर दिए जाएंगे।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top