सोनभद्र में मनमाने ढंग से बन रहे डूडा के आवास

सोनभद्र में मनमाने ढंग से बन रहे डूडा के आवासडूडा आवास।

भीम कुमार, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

सोनभद्र। सोनभद्र के सभी नगर पंचायतों में डूडा द्वारा बनाए गए आवास कुछ ही साल में खंडहर होने लगे हैं। कई आवास बन गए हैं तो कई आवास अधूरे छोड़कर ही ठेकेदार गायब हो गए हैं।

दुद्धी कस्बा के रहने वाले सुजीत कुमार इस बारे में कहते हैं, “हमारे यहां डूडा आवास तीन वर्षों में भी पूरा नहीं हो सके हैं। आवास के बनने के लिए हमने सरिया और सीमेंट भी दिए हैं, लेकिन काम आधे पर रोक दिया गया। बाकी अधूरे कार्य को करने के लिए कहा जाता है पर ठेकेदार बात टाल कर चले जाते हैं।”

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

आवास की जर्जर अवस्था देखकर आवास में रहने वाले लोगों में डर बना हुआ है। मानक के विपरीत कार्य डूडा द्वारा किया गया है, जबकि पिछले वर्ष और लोगों का बने हुए आवास में उपजिलाधिकारी ने मुआयना भी किया पर इस विभाग पर कोई असर नहीं पड़ा। डूडा द्वारा सड़क, आवास, नाली, हैण्डपम्प, बिजली खम्भे वाला लैम्प सहित अन्य विकास कार्य कराए जाते हैं। इस कार्य योजना के बारे में जिलाधिकारी व कमिश्नर से जांच की मांग भी लोगों ने की, लेकिन अभी तक कुछ नहीं हो पाया।

वार्ड नंबर नौ की रहने वाली शारा बेगम कहती हैं, “डूडा द्वारा बनाई गई दीवार चिटक गई है और पिछले वर्ष बरसात में छत से पानी टपकने लगा था और काम भी अभी पूरी तरह से नहीं हो पाया है।” इस बारे में सोनभद्र जिले के एडीएम रामचन्द्र कहते हैं, “पूरा मामला समझना पड़ेगा। अगर कहीं कोई दिक्कत या गड़बड़ी है तो उसके अनुरूप कदम उठाए जाएंगे।” कई घरों में अभी तक दरवाजे भी नहीं लगाए गए हैं। इस बारे में वार्ड नंबर आठ में रहने वाले बसंत ने बताया, “हमारे यहां के आवास में अभी तक दरवाजा नहीं लगाया गया है, कहने के बाद भी अभी तक कोई काम नहीं हुआ है।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top