घर के पास से अपहरण कर बच्ची की हत्या  

घर के पास से अपहरण कर बच्ची की हत्या  आठ साल के बच्ची

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के ठाकुरगंज में बच्ची की मौत मामले में पीएम रिपोर्ट आई, जिसमें पानी में डूबने से हुई बच्ची की मौत की पुष्टि पुलिस ने की है। पूरा मामला ठाकुरगंज क्षेत्र का है, जहां ईद के दिन घर के बाहर खेल रही पांच साल की बच्ची का अपहरण के बाद हत्या कर शव नाले में फेंक दिया गया। बच्ची के साथ हैवानियत किए जाने की बात भी सामने आ रही है। बच्ची के सिर, चेहरे, हाथ पर चोट के गहरे निशान थे, जबकि उसके कपड़े खून से सने हुए थे। शहर में हुई इस सनसनीखेज वारदात ने सुरक्षा का दम भरने वाली पुलिस के दावों की हवा निकाल दी है, जबकि पुलिस का कहना है कि पूरे मामले की जांच चल रही है और रेप की पुष्टि पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही हो पाएगी। वहीं पीड़ित परिजनों ने पुलिस पर पूरे घटनाक्रम में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है।

ये भी पढ़ें - ‘ एक रात मैं सोई थी, कुछ लोगों ने छत से फेंक दिया, एक हाथ कट गया लेकिन... हौसला जिंदा रहा’

रेप की आशंका से नहीं किया जा सकता इंकार

ठाकुरगंज के असलम (बदला हुआ नाम) दूध कारोबारी हैं। असलम सोमवार सुबह ईद के मौके पर तैयार होकर नमाज अदा करने के लिए चले गए। घर पर उनकी पांच साल की बेटी अपने दादा के साथ मौजूद थी। असलम के रिश्तेदार ने बताया कि बेटी नहाने की जिद कर रही थी, लेकिन उसके दादा उससे नमाज अदा करने की बात कहकर खुद नहाने चले गए। इस पर बेटी घर के बाहर निकल आई और मोहल्ले के बच्चों के साथ ईद का जश्न मनाने लगी। दादा नहाकर जब नमाज अदा करने के लिए मस्जिद जाने लगे तब भी बेटी बाहर ही खेलती दिखी, लेकिन करीब एक घंटे बाद जब असलम और उसके पिता घर वापस लौटे तो बेटी वहां नहीं थी। असलम ने घर में जाकर देखा बच्ची वहां भी नहीं थी। मोहल्ले में पता किया। पड़ोसियों के घर जाकर जानकारी लेकिन किसी को कुछ पता नहीं था। इस पर परिजन सीधे ठाकुरगंज पुलिस के पास पहुंचे। पुलिस ने भी मामला दर्ज कर बच्ची की तलाश शुरू कर दी। ठाकुरगंज पुलिस रात करीब एक बजे तक बच्ची की तलाश में पूरे इलाके को खंगाल चुकी थी, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका था।

ये भी पढ़ें- सिपाही ने किया वर्दी को शर्मसार

उधर, मंगलवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे ठाकुरगंज पुलिस को सूचना मिली कि ठाकुरगंज के कैटल कॉलोनी के पास स्थित नाले में एक बच्ची का शव पड़ा है। पुलिस को अंदेशा था कि यह उसी बच्ची का शव हो सकता है जिसकी तलाश में वह देर रात तक जुटी थी। पुलिस ने परिजनों को जानकारी देते हुए मौके पर पहुंची। जहां परिजनों ने बच्ची की पहचान की। पुलिस ने शव को कब्जे में करते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसओ ठाकुरगंज का कहना है कि, पीएम रिपोर्ट के बाद ही मौत की वजह साफ हो सकेगी। साथ ही घर के बाहर से बच्ची को अगवा किया गया है। उससे साफ है कि बच्ची अपहरणकर्ताओं को पहचानती थी। यही वजह थी कि भीड़-भाड़ वाली जगह से अपहरणकर्ता आसानी से बच्ची को अगवा कर ले गए और उसने शोर भी नहीं मचाया। पुलिस स्थानीय लोगों से पूछताछ व सीसीटीवी फुटेज की मदद ले रही है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top