मीडिया और राजनीति के कनेक्शन को दिखाती है फिल्म जेडी

मीडिया और राजनीति के कनेक्शन को दिखाती है फिल्म जेडीमंगलवार को लखनऊ में फिल्म ‘जेडी’ की स्क्रीनिंग की गई। 

लखनऊ। मीडिया किसी मुद्दे को उछालता है, और कैसे खबरें दबा दी जाती हैं, इस गठजोड़ को फिल्म 'जेडी' में बखूबी दिखाया गया है।

मंगलवार को लखनऊ में फिल्म 'जेडी' की स्क्रीनिंग के समय इसके निर्देशक शैलेन्द्र पांडेय ने कहा, "फिल्म कोई कहानी नहीं एक संघर्ष है, इसमें सभी किरदारों ने वही रोल किया है, जो वो अपनी वास्तविक ज़िंदगी में करते आ रहें।" यह फिल्म निर्देशक शैलेन्द्र पांडेय की पहली फिल्म है, और वो खुद एक पत्रिका में फोटोजर्नलिस्ट थे।

इस फिल्म का अधिकफिल्म में पूर्व समाजवादी नेता अमर सिंह और लखनऊ के दिग्गज पत्रकार शरत प्रधान ने भी अहम भूमिका अदा की है। अमर सिंह को ईमानदार राजनेता और शरत प्रधान पत्रकार के नेगेटिव रोल में हैं। फिल्म में एक जज की भूमिका में एक संजय दत्त को सजा सुनाने वाले जस्टिस खोड़े हैं।

ये भी पढ़ें : वाघेला ने बनाया तीसरा मोर्चा, निर्दलीय उम्मीदवारों का करेंगे समर्थन

स्पेशल स्क्रीनिंग से पहले अमर सिंह ने कहा, "पहले तो यह फिल्म की स्क्रिप्ट पसंद नहीं आई, लेकिन जब पूरी स्क्रिप्ट पढ़ी तो यह समाज का आईना लगी,"मजाकिया अंदाज में आगे कहा, "पहले मैं निर्देशक को लाइन नहीं देता था, अब वो मुझे लाइन नहीं देते। यह फिल्म अंदर की भड़ास है।"

इस फिल्म का अधिकतर हिस्सा लखनऊ में ही शूट हुआ है, और इसमें कई कलाकार लखनऊ से हैं। हालांकि फिल्म 22 सितंबर को रिलीज होगी, लेकिन इस फिल्म के प्रोमो को सेंसर बोर्ड से क्लियरेंस नहीं मिल पाई। इस बारे में निर्माता-निर्देशक शैलेन्द्र पांडेय ने कहा, "प्रोमो को बिना देखे ही रिजेक्ट कर दिया गया। वजह सेंसर बोर्ड को भी नहीं पता। इस लिए फिल्म का प्रोमो टीवी पर नहीं चल पा रहा।"

लखनऊ के तेजतर्रार पत्रकार शरत प्रधान ने फिल्म में एक सेंटिंग करने वाले संपादक की भूमिका निभाई है। इसे बारे में कि उन्होंने अपने रीयल किरदार से अलग फिल्म में अभिनय किया है, शरत प्रधान ने गाँव कनेक्शन को बताया, "फिल्म में मेरा अनुभव काफी अच्छा रहा। फिल्म में जो मेरा रोल है, वो कोई ईमानदार पत्रकार ही कर सकता है। हमने पत्रकारिता में बेईमानी करीब से देखी है। इसलिए रोल को निभाने में दिक्कत नहीं हुई। फिल्म मीडिया और राजनीति के कनेक्शन को दिखाती है।" इससे पहले शरत प्रधान मधुमिता हत्याकांड पर बनी फिल्म मोनिका में भी पत्रकार की भूमिका निभा चुके हैं।

ये भी पढ़ें : भाजपा से नाराज शिवसेना महाराष्ट्र सरकार से निकल सकती है बाहर

Share it
Top