राशन की दुकानों पर जल्द होगा डिजिटल भुगतान

राशन की दुकानों पर जल्द होगा डिजिटल भुगतानराशन की दुकानों पर भी कोटेदार कैशलेस व्यवस्था के तहत राशन का वितरण करेंगे।

श्रीवत्स अवस्थी,स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

उन्नाव। वह समय भी अब दूर नहीं जब राशन की दुकानों पर भी कोटेदार कैशलेस व्यवस्था के तहत राशन का वितरण करेंगे। राशन की दुकानों को कैशलेस करने के लिए शासन ने कदम बढ़ा दिए हैं। जल्द ही जिले की सभी राशन दुकानों पर प्वाइंट ऑफ सेल्स (पीओएस) मशीनों को लगवाने के साथ ही पेटीएम जैसे मोबाइल एप से ग्राहकों को भुगतान करने की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। राशन कार्ड धारकों को भुगतान करने में किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिए कोटेदारों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

राशन कार्डधारकों के साथ हो रही लूट कोटेदारों की मनमानी पर लगाम लगाने के लिए शासन ने एक और कदम बढ़ाया है। जिसके तहत अब राशन की दुकानों पर कार्ड धारकों द्वारा किए जाने वाले भुगतान को डिजिटल माध्यम से करना आवश्यक कर दिया गया है। सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों पर राशन लेने आने वाले कार्डधारक अब डिजिटल पेमेंट के तहत ही अपना भुगतान कोटेदार को करेंगे।

यही नहीं कोटेदार भी राशन उठाने के बाद अब अपना भुगतान डिजिटल पेमेंट के माध्यम से ही कर सकेंगे। जिला पूर्ति अधिकारी नसीम अख्तर ने बताया कि हाल में शासन स्तर पर हुई मीटिंग में इस बात का फैसला लिया गया है। उन्होंने बताया कि सभी ग्राम पंचायत स्तर पर डिजिटल पेंमेंट को बढ़ावा दिया जा सके, इसके तहत इस प्रक्रिया को लागू किया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि राशनकार्ड डीलरों के लिए यह आवश्यक कर दिया गया है कि वह अधिक से अधिक संख्या में राशनकार्ड धारकों से खाद्यान्न का मूल्य अधिक से अधिक संख्या में डिजिटल माध्यम से ही प्राप्त करें। वहीं कोटेदार भी अधिक से अधिक संख्या में उपलब्ध कराए जाने वाले राशन का भुगतान भी डिजिटल भुगतान के रूप में करें।

जिला पूर्ति अधिकारी नसीम अख्तर ने यह भी बताया कि आने वाले समय में डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिए जिले के सभी राशन की दुकानों पर प्वाइंट ऑफ सेल्स यानी की पीओएस मशीन भी लगवाई जाएंगी। इस प्रक्रिया की शुरुआत कर दी गई है। उन्होंने बताया कि उम्मीद कि अप्रैल माह के अंत तक राशन की दुकानों में यह मशीने लग जाएंगी।

वापस होंगे पूर्व मुख्यमंत्री की फोटो वाले राशन कार्ड

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की तस्वीर वाले राशनकार्ड अब जारी नहीं किए जाएंगे। प्रशासन ने इन राशनकार्ड को बांटने पर रोक लगा दी है। इसके साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री की तस्वीर वाले वह राशनकार्ड जो बांटे जा चुके हैं, उन्हें वापस लेने के भी निर्देश जारी कर दिए हैं। जिलाधिकारी अदिति सिंह द्वारा जारी किए गए निर्देश में कहा गया है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत पूर्व मुख्यमंत्री के चित्र एवं संदेश के साथ जो राशन कार्ड वितरित किए जा चुके हैं उन्हें वापस ले लिया जाए। वहीं जिन लोगों को अभी राशन कार्ड नहीं जारी किए गए हैं उन्हें एक ड्राफ्ट प्रारूप पर पर्ची के माध्यम से राशन उपलब्ध कराया जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top