सुरक्षा, सुविधा और सुचारू बिजली होगा नई उद्योग नीति का मंत्र : उप मुख्यमंत्री

सुरक्षा, सुविधा और सुचारू बिजली होगा नई उद्योग नीति का मंत्र : उप मुख्यमंत्रीगाँव कनेक्शन

लखनऊ। प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने उद्योग एवं व्यापार जगत से जुड़े प्रतिनिधियों को उत्तर प्रदेश में उद्योग लगाने के लिए अनवरत विद्युत आपूर्ति एवं सुरक्षा का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार का प्रयास है कि प्रदेश में ऐसी उद्योग नीति बनायी जाए, जो अन्य राज्यों के लिए भी अनुकरणीय हो। उन्होंने कहा कि सरकार सुनिश्चित करेगी कि उद्यमियों को प्रत्येक स्तर पर अनुकल वातावरण मिले।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उप मुख्यमंत्री ने ये बातें मंगलवार को योजना भवन में नयी औद्योगिक नीति तैयार करने के लिए बनी मंत्री समूह की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहीं। बैठक में औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल, ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा, स्टाम्प रजिस्ट्रेशन मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नन्दी’ और औद्योगिक विकास राज्य मंत्री सुरेश राणा भी मौजूद थे। शर्मा ने कहा कि सरकार उद्यमियों के लिए प्रभावकारी सिंगिल विन्डो सिस्टम लाएगी, ताकि सभी तरह की स्वीकृतियां उद्यमियों को एक स्थान पर मिल सके। इससे उद्यमियों में विश्वास का वातावरण बनेगा।

इसी तरह निवेशकों की समस्याओं का समयबद्ध निराकरण करने के लिए आन लाइन ग्रीवान्स रिड्रेसल सिस्टम तैयार किया जा रहा है। बैठक में उद्यमियों ने भू-उपयोग परिवर्तन, भूमि अधिग्रहण में आनेवाली कठिनाइयों, पर्यावरण क्लीयरेन्स, औद्योगिक सुरक्षा, समयबद्ध स्वीकृतियां, पारदर्शिता, इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी आदि के संबंध में आने वाली कठिनाइयों से मंत्री समूह को अवगत कराया।

ओपेन एक्सेस से बिजली लेने की छूट होगी

ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने उद्यमियों को ओपेन एक्सेस से विद्युत खरीद करने के लिए छूट करने की बात कही। मुख्य सचिव राहुल भटनागर, अपर मुख्य सचिव ऊर्जा संजय अग्रवाल, अपर मुख्य सचिव वित्त अनूप चन्द्र पाण्डेय, प्रमुख सचिव नियोजन मुकुल सिंहल, प्रमुख सचिव राजस्व अरविन्द कुमार समेत अनेक अधिकारी व कम्पनियों के लगभग 72 प्रतिनिधि मौजूद थे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top