छात्रों ने जानी पत्रकारिता की बारीकियां

छात्रों ने जानी पत्रकारिता की बारीकियांगाज़ियाबाद में छात्रों ने जानी पत्रकारिता की बारीकियां

गाजियाबाद। गाँव कनेक्शन फाउंडेशन के स्वयं प्रोजेक्ट के तहत गाजियाबाद के प्रतिष्ठित संस्थान नार्दन इंडिया टेक्सटाइल्स रिसर्च इंस्टीटयूट में पत्रकारिता कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का विषय था स्वंय प्रोजेक्ट से जुड़कर बनिए छात्र पत्रकार और अपने गाँव के प्रतिनिधि।

वर्कशाप मे बड़ी संख्या में संस्थान के बीटेक के छात्रों ने भाग लिया। इस अवसर पर संस्थान के वरिष्ठ प्रतिनिधि एमएम तिवारी ने ‘गाँव की हमारे जीवन’ में क्या महत्व है विषय पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा,“ बिना गाँवों के विकास के राष्ट्र का विकास सम्भव नहीं है। भारत गाँवों का देश है। गाँवों के बिना हमारा जीवन अधूरा है। ”

वर्कशाप में पत्रकारिता से जुड़े विषयों एवं खबरों के बारे में विस्तार से बताया गया। छात्रा शिवानी (22वर्ष) ने गाँव की समस्याओं के बारे में बताया, जिसके बाद उसे समस्या के निराकरण के बारे में बताया गया।

छात्रा रूचि (25वर्ष) ने लगातार हो रहे घोटालों, महिलाओं के साथ के साथ हो रहे अपराध के लिए सरकार द्वारा की जा रही कार्रवाही पर प्रश्न खड़ा किया। बताया कि जब तक समाज के लोग नहीं जागरूक होंगे कुछ भला नही होने वाला।

Share it
Top