जमीनी विवाद में तीन की पीट-पीट कर हत्या, दो को जिंदा जलाया  

जमीनी विवाद में तीन की पीट-पीट कर हत्या, दो को जिंदा जलाया  जली हुयी जीप 

लखनऊ। यूपी में अपराधियों के अंदर से पुलिस का खौफ पूरी तरह से खत्म हो गया है, इसका ताजा उदाहरण रायबरेली उंचाहार की घटना ने साबित कर दिया है। जहां जमीन पर कब्जे के विवाद में तीन लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। जबकि दो अन्य को कार सहित जिंदा जला दिया गया। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस के हाथ-पांव फुल गए।

मौके पर पहुंची पुलिस ने तनाव के माहौल को देखते हुए गॉंव में भारी पुलिस बल तैनात कर दी है। साथ ही नामजद चार आरोपियों को आनन-फानन में गिरफ्तार कर लिया है। वहीं इस घटना के बाद से गांव में भारी तनाव का माहौल है, जिसे देखते हुए राजधानी से आलाधिकारी मौके पर स्वंय मौजूद हैं।

ये भी पढ़ें- ‘ एक रात मैं सोई थी, कुछ लोगों ने छत से फेंक दिया, एक हाथ कट गया लेकिन... हौसला जिंदा रहा’

आईजी रेंज लखनऊ जय नारायण सिंह के मुताबिक, प्रतापगढ़ जनपद के संग्रामगढ़ थाना क्षेत्र स्थित तेवारा गांव का पूर्व प्रधान रोहित शुक्ला उंचाहार कोतवाली क्षेत्र के भुसई का पुरवा में ससुराल की तरफ से खुद को मिली एक जमीन पर निर्माण कार्य करवा रहा था। जहां पास के ही अपटा गांव की महिला प्रधान रामश्री का पुत्र राजा यादव मौके पर पहुंच गया। वहां निर्माण कार्य रकवाने को लेकर रोहित और राजा यादव में कहासुनी शुरू हो गई। राजा ने उक्त जमीन को ग्राम सभा की जमीन पर अवैध रूप से कब्जे करने को लेकर अन्य ग्रामीणों को बुला लिया। ग्रामीणों की भीड़ देख रोहित ने अपने भी साथी अनूप, अंकुश, करमचंद, मनीष और बच्चा शुक्ला को अपटा गांव बुला लिया। इस दौरान रोहित ने कहा कि, वह जिस जमीन पर निर्माण करा रहा है, वह उसके ससुर ने उसे दी है, जिसे वह किसी भी हालत में लेकर रहेगा। इसी बीच दोनों पक्षों के बीच विवाद इतना अधिक बढ़ गया कि, राजा यादव के भाई कृष्ण यादव ने हवा में गोलियां चलानी शुरू कर दीं। खुद को घिरता देख रोहित और उसके साथी मौके से वापस लौटने में ही अपनी गनीमत समझी। फिर भी राजा और उसके साथियों ने रोहित की कार का पीछा करना शुरू कर दिया। रोहित की गाड़ी गांव से बाहर निकल रही थी कि तभी रास्ते में जल्दी में भागने के चक्कर में शौच के लिये जा रहे एक बुजुर्ग से टकराने के कारण वह अनियंत्रित होकर बिजली के खम्भे से जा टकराई। इसी दौरान राजा और उसके 80-90 साथी मौके पर पहुंच गये। जहां ग्रामीणों ने रोहित और उसके साथियों को भागने का मौका नहीं दिया और भीड़ ने सभी को लाठी-डंडों से पीटना शुरू कर दिया। जिससे उनमें से रोहित, करमचंद और बच्चा की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि अनूप और अंकुश की जीप में जलकर मौत हो गयी। आशंका व्यक्त की जा रही है कि दो लोगों को जीप में राजा यादव पक्ष के लोगों ने जिंदा फूंक दिया।

ये भी पढ़ें- तीन मौतें: अब तो स्टंट बाइकर्स का खतरनाक खेल रोकिए

मृतकों के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने राजा यादव और उसके भाई कृष्ण, प्रदीप और राम बहाल यादव को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी आरोपियों की तलाश जारी है, जिन्हें जल्द से जल्द पुलिस गिरफ्तार करने का दावा कर रही है। वहीं पकड़े गए आरोपियों का कहना है कि, रोहित और उसके साथी घर पर धमकाने आये थे। जिस पर आक्रोशित ग्रामीणों ने जब उन्हें दौड़ाया तो भागते समय उनकी गाड़ी पलट गयी और बिजली के खम्भे से जा टकराई, जिसके चलते उनकी गाड़ी में भीषण आग लग गई। इस घटना के चलते कार में सवार लोगों की मौत हो गई। वहीं डीजीपी सुलखान सिंह ने बताया कि, ऊॅचाहार क्षेत्र के ग्राम इटौरा बुजुर्ग में महिला ग्राम प्रधान के घर पर कुछ अज्ञात लोगों ने फायरिंग की एवं गांव वालों के ललकारने के बाद भागते समय अज्ञात हमलावरों का वाहन एक बिजली के खम्भे से टकरा गई, जिससे उसमें आग लग गई एवं अन्दर बैठे कुछ व्यक्तियों की जल कर मौत हो गई। सूचना मिलने पर थाना ऊॅचाहार की पुलिस कई अन्य थानों का पुलिस बल मौके पर पहुंचा।

जहां जलते हुए वाहन से काफी प्रयास के बाद दो व्यक्तियों के शवों को निकाला जा सका। अन्य 3 व्यक्तियों के शव वाहन के आसपास पड़े थे। वहीं मृतकों के भाई रोहित शुक्ला के भाई देवेश शुक्ला ने आरोप लगाया है कि, उनके भाई रोहित शुक्ला एवं अन्य व्यक्तियों के साथ सोमवार रात आठ बजे जनपद प्रतापगढ से ग्राम इटौरा बुजुर्ग थाना ऊॅचाहार स्थित अपनी ससुराल जा रहे थे। जहां राजा यादव, कृष्ण कुमार यादव, प्रदीप यादव व 3-4 अज्ञात व्यक्तियों ने गाड़ी रोकने का प्रयास किया, जिससे उनकी गाड़ी खम्भे से टकरा गयी एवं राजा यादव व उनके साथियों ने हमला बोल दिया। इसके बाद नरेन्द्र शुक्ला, अंकुश मिश्रा व अनूप मिश्रा को पीट-पीट कर मार डाला एवं गाड़ी में फॅसे रोहित शुक्ला एवं बृजेश शुक्ला को पेट्रोल डालकर जिन्दा जला दिया। हालांकि पुलिस का कहना है कि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की असल वजह स्पष्ट हो पाएंगी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top