अब दिव्यांग दिनेश ने मंत्री को सुनाई खरी खोटी, कहा- सीएम से मिलकर करेंगे शिकायत

अब दिव्यांग दिनेश ने मंत्री को सुनाई खरी खोटी, कहा- सीएम से मिलकर करेंगे शिकायतसफाई कर्मचारी दिनेश कुमार

लखनऊ। योगी सरकार के खादी और ग्रामद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने बुधवार को खादी ग्रामोद्योग के सफाई कर्मचारी दिनेश कुमार को लूला-लंगड़ा कहकर उनका अपमान किया था। अब इस मामले में दिनेश ने अपना पक्ष रखा। उन्होंने कहा कि वह अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर खादी मंत्री सत्यदेव पचौरी की शिकायत करेंगे।

दिनेश ने कहा कि उन्हें मंत्री जी की बातों से बहुत दुख पहुंचा है। उन्होंने कहा कि वह इतने सालों से यहां काम कर रहे हैं और बड़े लोग उन्हें कुछ भी बोल देते हैं। इस बारे में दिनेश ने कहा, मंत्री जी को हमने बताया था कि हम यहां साल 1999 से काम कर रहे हैं और मुझे चार हजार रुपए तनख्वाह मिलती है। इसके बाद मंत्री जी ने कहा कि ऐसे लूड़े-लंगड़े लोगों को रखा है तभी ये हाल है, ये क्या सफाई करेंगे।

ये भी पढ़ें : योगी के मंत्री के बिगड़े बोल, कहा- लूला-लंगड़ा क्या सफाई कर पाएगा

इस बारे में बात करने हुए सफाई कर्मी दिनेश ने कहा कि मंत्री जी के इस बयान से वह बहुत चिंतित हैं। उन्होंने कहा, इतने साल हो गए, आजतक मैंने किसी को शिकायत का मौका नहीं दिया हैद्ध इससे पहले भी तीन-चार मंत्री बदले जा चुके हैं लेकिन कभी किसी ने उनके काम पर सवाल नहीं उठाया। दिनेश बोले, मंत्री जी क्यों इतना भड़क गए थे उन्हें नहीं पता। उनकी अपनी सोच है और उनका अपना कहना है। उन्होंने कहा, बड़े लोग तो कभी भी कुछ भी बोल सकते हैं। उनके बोलने में क्या जाता है। मगर मेरे साथ गलत हुआ है। इसलिए मैंने योगी जी से मिलने का विचार किया है। मैं उनके सामने अपनी बातें रखूंगा।

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए दिनेश ने कहा कि मंत्री जी माफी मांगे या ना मांगे लेकिन उन्होंने जो बोला है वो गलत है। ऐसे में मंत्री जी को साबित करना होगा कि मैं विकलांग हूं क्योंकि डॉक्टर ने जो रिपोर्ट बनाई है उसमे साफ है कि जो कर्मचारी यहां काम कर रहे हैं उनके कोई दिक्कत नहीं है।

इस मामले पर यूपी सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा, सत्यदेव पचौरी सरकार के वरिष्ठ मंत्री है। उन्होंने भी इस बात का संज्ञान लिया है कि भविष्य में इस तरह के शब्दों का प्रयोग नहीं किया जाएगा जिससे किसी की भावनाएं आहत हों।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top