बीएचयू में उपद्रव के विरोध में काली पट्टी बांधकर डाक्टरों व नर्सों ने निकाला शांति मार्च 

बीएचयू में उपद्रव के विरोध में  काली पट्टी बांधकर डाक्टरों व नर्सों ने निकाला शांति मार्च काशी हिंदू विश्वविद्यालय परिसर।

वाराणसी (भाषा)। काशी हिंदू विश्वविद्यालय परिसर में शनिवार रात हुए उपद्रव के विरोध में चिकित्सा विज्ञान संस्थान के निदेशक प्रो वी के शुक्ला के नेतृत्व में आज दोपहर में संस्थान के प्रोफेसरों, सर सुन्दरलाल अस्पताल के चिकित्सकों, नर्सों एवं अन्य कर्मचारियों ने हाथों में काली पट्टी बांधकर शांति मार्च निकाला।

संस्थान के कर्मचारियों का शांति मार्च बीएचयू के मालवीय भवन से प्रारंभ होकर सिंहद्वार तक निकाला गया। इसके बाद लंका स्थित मालवीय जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद परिसर में शांति बहाली की प्रार्थना की गई।

मार्च में शामिल लोगों ने परिसर में छेड़खानी और लाठीचार्ज की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण घटना करार देते हुए कहा कि मुख्यद्वार को बन्द करके धरना प्रदर्शन करना अनुचित है। परिसर में कुछ अराजक तत्व पठन-पाठन के माहौल को खराब करने का प्रयास कर रहे हैं जो घृणित है।

उत्तर प्रदेश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

सर सुन्दरलाल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डा. ओ पी उपाध्याय ने कहा कि छेड़खानी और हिंसा दोनों गलत है। मुख्यद्वार बंद कर देने से दूरदराज से इलाज को अस्पताल आने वाले गंभीर मरीजों को मुश्किलों का सामना करने के साथ ही जान का खतरा बढ़ जाता है।

Share it
Top