महिलाओ ने नही खुलने दी देशी शराब की दुकान

महिलाओ ने नही खुलने दी देशी शराब की दुकानप्रदर्शन की सुचना पर मड़ियांव पुलिस मौके पर पहुची और भवन स्वामी जगदीश लोधी को थाने लेकर चली गयी, साथ ही प्रदर्शनकारियों को भी थाने बुलाया गया।

लखनऊ। शराब के ठेको को राष्ट्रीय राजमार्गो से 500 मीटर दूर खोलने के सरकार के आदेश के बाद शराब व्यवसायी दूकान खोलने के लिए नई जगह की तलाश में लगे हुए है। वहीं कई जगह शराब की नई दुकानों का विरोध भी शुरु हो गया गै।

लखनऊ के मड़ियांव थानान्तर्गत गायत्री नगर में मोहिबुल्लापुर मड़ियांव निवासी जगदीश लोधी के दूकान में पिछले दो दिनों से देशी शराब ठेका खोलने के लिए निर्माण कराया जा रहा था, जब स्थानीय लोगो को इस बात की जानकारी हुई तो महिलाओं ने भारी संख्या में एकत्रित होकर न केवल इसका विरोध किया बल्कि शराब व्यवसायी द्वारा बनाया गया टीन टप्पर भी गिरा दिया।

प्रदर्शन की सुचना पर मड़ियांव पुलिस मौके पर पहुची और भवन स्वामी जगदीश लोधी को थाने लेकर चली गयी, साथ ही प्रदर्शनकारियों को भी थाने बुलाया गया। प्रदर्शन कर रही शीतल (40 वर्ष) जो पेशे से धोबी है उनका कहना है कि बस्ती के बीच में दूकान खुलना सही नही है रामलीला मैदान के पहले से एक देशी ठेका है आये दिन शराबी तांडव करते है यहां बस्ती के बीच वो ठेका नही खुलने देंगे।

लोगों ने तोड़ डाला टेंट।

गायत्री नगर निवासी रामजीवन यादव ( 46 वर्ष) कहा, ''यहा ठेका खुलने से बच्चो पर गलत असर पड़ेगा और साथ ही बहन बेटियो का निकलना दुश्वार हो जायेगा, बस्ती के बीच ठेका खुलना सही नही है।'' वहीं अर्चना (38 वर्ष) ने विरोध का कारण बताते हुए कहा कि सरकार को बस्ती के बीच ठेका खोलने की अनुमति नही देनी चाहिए, यहाँ ठेका खुला तो जीना दुश्वार हो जायेगा इसलिए विरोध कर रहे है।

भवन स्वामी और विरोध कर रहे लोगो को समझाबुझाकर शांत करा दिया है शराब के दूकान की अनुज्ञप्ति व उसके मालिक का नाम अभी पता नही चला है उसे तलब किया है ताकि ये पता चल सके की दूकान मानकों के अनुरूप है या नही।
अंजनी कुमार पांडेय, मड़ियांव कोतवाल

अघोर इश्वर कीनाराम कंपनी के मैनेजर बबलू सिंह का कहना है कि ठेके की अनुज्ञप्ति अघोर इश्वर किनाराम कंपनी के मालिक दीनदयाल सिंह के नाम पर है और वर्तमान में ठेका सीतापुर रोड मड़ियांव में है, अनुज्ञप्ति का रिनिवल दिसंबर में हो चूका है तथा आबकारी विभाग द्वारा भी गायत्री नगर में ठेका खोलने की अनुमति हमारे पास है।

एक्साइज इंस्पेक्टर संजय कुमार यादव ने इस बारे में बताया कि गायत्री नगर में शराब ठेका आबकारी के मानकों के अनुरूप है ठेका स्थल से 50 मीटर की दुरी में कोई मंदिर, मस्जिद, अथवा स्कूल नही है, तथा ये ठेका शराब व्यवसायी द्वारा मानकों के अनुरूप खोला जा रहा था जिसका विरोध क्षेत्रीय लोगो द्वारा करने की सुचना मिली है ।

हालांकि हंगामे के बाद जमीन के मालिक जगदीश लोधी ने कहा कि वो अपनी दुकान शराब व्यापारियों को नहीं दूंगा, मुझे लोगों के विरोध का अंदाजा नहीं था। मैं ठेकेदार को पैसा वापस कर दूंगा।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top