उत्तर प्रदेश सरकार का दावा, प्रति व्यक्ति आय में हुई बढ़ोतरी

उत्तर प्रदेश सरकार का दावा, प्रति व्यक्ति आय में हुई बढ़ोतरीgaonconnection

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश सरकार ने गुरुवार को दावा किया कि राज्य की आर्थिक वृद्धि दर एवं प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोतरी हुई है तथा प्रदेश की ग्रामीण एवं नगरीय अर्थव्यवस्था ने उल्लेखनीय प्रगति दर्ज की है।

उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि प्रदेश का सकल राज्य घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) में 2012-13 की तुलना में पिछले वित्त वर्ष में 2.7 ऊंचा रहा। 2012-13 में प्रदेश की जीएसडीपी वृद्धि दर जहां 3.9 फीसदी थी वहीं यह 2015-16 में बढ़कर 6.6 हो गई। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के शुद्ध राज्य घरेलू उत्पाद (एनएसडीपी) में भी प्रभावकारी सुधार हुआ है।

2012-13 में प्रदेश की एनएसडीपी वृद्धि 3.7 फीसदी थी, जो 2015-16 में बढकर 6.5 हो गई। इसी प्रकार प्रति व्यक्ति आय में भी उल्लेखनीय वृद्धि हासिल की गई है। मार्च 2016 में समाप्त पिछले वित्त वर्ष में प्रदेश की प्रति व्यक्ति आय 48,584 रुपए रही जो 2012-13 में 35, 358 रुपए ही थी। प्रवक्ता ने कहा, ‘‘इससे जाहिर है कि वर्तमान राज्य सरकार की विकास परियोजनाओं का असर अब राज्य की अर्थव्यवस्था पर दिखने लगा है।’’ 

पढ़ाई छोड़ने वाले छात्रों में आई कमी

प्रवक्ता के अनुसार, राज्य सरकार ने सभी क्षेत्रों में प्रभावी काम किया है। 2012 में सीनियर बेसिक विद्यालयों में छात्र नामांकन अनुपात जहां 57.17 फीसदी था, वहीं 2015 में इसमें तेजी से सुधार आया और यह अनुपात बढ़कर 65.95 हो गया। इस प्रकार 15 फीसदी से अधिक वृद्धि दर्ज की गई जबकि बीच में पढ़ाई छोड़ने वाले छात्र-छात्राओं की दर में भी काफी कमी आयी है। प्रवक्ता ने कहा कि 2012 में जहां 49 फीसदी से अधिक छात्रों द्वारा बीच में पढ़ाई छोड़ दी जाती थी, वहीं अब यह संख्या घटकर करीब 39 फीसदी हो गई। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top