वाराणसी में एम्स की मांग के लिए पदयात्रा

वाराणसी में एम्स की मांग के लिए पदयात्राgaonconnection

वाराणसी (भाषा)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की स्थापना की मांग के लिए सभी पार्टियों के नेताओं, डॉक्टरों और छात्रों ने एक पदयात्रा निकाली।

सैकड़ों लोगों ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) गेट से लेकर रविंद्रपुरी इलाके में स्थित मोदी के संसदीय कार्यालय तक पदयात्रा की।

बीएचयू में हृदय रोग विशेषज्ञ ओम शंकर ने इस पदयात्रा की अगुवाई की। सपा नेता सतीश फौजी, कांग्रेस नेता शैलेंद्र सिंह, आम आदमी पार्टी के संजीव सिंह और बसपा और भाजपा नेताओं ने भी इस पदयात्रा में हिस्सा लिया।

शंकर ने कहा, ‘‘यहां एम्स स्थापित करने की अपनी पुरानी मांग के समर्थन में हमने एक पदयात्रा की। विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के नेताओं के साथ-साथ डॉक्टरों और छात्रों ने भी पदयात्रा में हिस्सा लिया।'' 

उन्होंने कहा, ‘‘गोरखपुर में एम्स स्थापित करने का केंद्र सरकार का फैसला गलत है और उसे वाराणसी में एम्स स्थापित करने की हमारी मांग पर फिर से विचार करना चाहिए।''

प्रधानमंत्री ने बीते शुक्रवार को गोरखपुर में एम्स का शिलान्यास किया था। शंकर ने यहां के इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (आईएमएस) को एम्स के रुप में उन्नत करने को लेकर 2014 में भूख हड़ताल की थी।

बीएचयू के अधिकारियों ने केंद्र सरकार के सामने इस मुद्दे को उठाने का आश्वासन दिया था, तब जाकर शंकर ने अपनी भूख हड़ताल खत्म की थी। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top