यहां रात के अंधेरे में फर्जी कार्डधारकों को बांटा जाता है राशन

यहां रात के अंधेरे में फर्जी कार्डधारकों को बांटा जाता है राशनgaoconnection

इटावा। केंद्र व राज्य सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद भी समय-समय पर राशन वितरण प्रणाली को पारदर्शी नहीं बनाया जा पा रहा है। इसका उदाहरण उस वक्त देखने को मिला जब जसवंतनगर विकास खंड के ग्राम भैंसई गाँव के तकरीबन 70 से 80 ग्रामीणों ने जिलाधिकारी का आवास घेर लिया और शिकायत की कि राशन डीलर फर्जी राशन कार्डधारकों को रात के वक्त राशन वितरण कर बाद में बंदरबांट कर रहा है जबकि पात्रों को भगा दिया जाता है। जिलाधिकारी डॉ. नितिन बंसल ने मामले की जांच कराए जाने का भरोसा दिलाया है।

जसवंतनगर विकास खंड के ग्राम भैंसई ग्राम पंचायत के ग्रामीणों ने राशन वितरण प्रणाली को दुरुस्त बनाये जाने को लेकर डीएम आवास के सामने जमकर नारेबाजी की। ग्रामीणों का कहना है कि राशन डीलर का संगठित गिरोह पिछले कई वर्षों से कार्य कर रहा है। इसमें अपात्र लोग कई प्रकार के राशन कार्ड धारक बने हुए हैं। 

ग्रामीणों का आरोप है कि सक्रिय रूप से पात्र सूची होने के बावजद लाभार्थियों की चस्पा सूची को फाड़ कर उन्हें बाहर से ही यह कहकर भगा दिया जाता है और कहा जाता है कि तुम्हारा नाम सूची में शामिल नहीं है। इस प्रकार शत प्रतिशत सूची के लाभार्थी खाद्य सुरक्षा गारंटी का अधिकार नहीं हासिल कर पा रहे हैं। डीएम आवास पर प्रदर्शन करने वालों में प्रमुख रूप से रामसेवक यादव, दिलासाराम, रामकिशोर, राजेश कुमार, निब्बू, मुन्नालाल, हुकुम सिंह, बाबूराम, राज बहादुर, निरोत्तम सिंह, प्रेम सिंह, राकेश, फूलन सिंह, विकास बाबू, लाखन सिंह आिद थे।

रिपोर्टर - मसूद तैमूरी

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.