योग को जीवन का अभिन्न हिस्सा बनाएं: राष्ट्रपति

योग को जीवन का अभिन्न हिस्सा बनाएं: राष्ट्रपतिgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आज कहा कि लोगों को शरीरर और मस्तिष्क के बीच पूर्ण सामंजस्य के लिए योग को जीवन का अभिन्न हिस्सा बनाना चाहिए।

मुखर्जी ने दूसरे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर राष्ट्रपति भवन में योग समारोह की शुरुआत की जिसमें करीब एक हजार लोगों ने हिस्सा लिया। इस मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि लोगों को योगाभ्यास को जीवन का अभिन्न हिस्सा बनाना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘‘योग से लोग स्वस्थ जीवन जी सकेंगे। यह शरीर और मस्तिष्क के बीच संपूर्ण सामंजस्य स्थापित करेगा। इससे मानसिक और शारीरिक सुख में वृद्धि होगी।'' राष्ट्रपति ने याद किया कि 11 दिसंबर, 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस घोषित करने से संबंधित प्रस्ताव को पारित किया गया।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top