यूपी में अब हर रोज़ दो घंटे जनता से मिलेंगे पुलिस अधिकारी

यूपी में अब हर रोज़ दो घंटे जनता से मिलेंगे पुलिस अधिकारीगाँव कनेक्शन

लखनऊ। अब प्रदेश के सभी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और पुलिस अधीक्षक अपने कार्यालयों में हर रोज सुबह दस से बारह बजे के बीच जनता से मिलकर उनकी समस्याओं को सुनेंगे। पुलिस महानिदेशक ने इस संबंध में दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। निर्देशों के पालन की समीक्षा अब खुद डीजीपी करेंगे।

पुलिस महानिदेशक जावीद अहमद द्वारा प्रदेश द्वारा भेजे गये निर्देश में कहा गया है कि पुलिस अधीक्षक कार्यालय और जिला मुख्यालय पुलिस की गतिविधियों का केन्द्र बिन्दु होता है। पत्र में बताया गया कि डीजीपी के संज्ञान में आया है कि जनपद में नियुक्त वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और पुलिस अधीक्षक अपने जनपदीय पुलिस कार्यालय में जनसमस्याओं को सुनने तथा दैनिक कार्यों सम्बंधी दायित्वों के निष्पादन हेतु कार्यालय में प्राय: नियमित रूप से उपस्थित ही नहीं होते हैं एवं मात्र कैंप कार्यालय से ही कार्य संचालित करते हैं। यह कार्य संस्कृति पुलिस जैसे जनसेवा वाले एवं अनुशासित बल के लिए नितान्त अनुपयोगी है। पुलिस महानिदेशक ने निर्देशों का कड़ाई से पालन करने को कहा है। साथ ही बताया है कि निर्देशों के अनुपालन स्थिति की समीक्षा इस मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा एवं मेरे द्वारा की जायेगी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top