यूपी सरकार बुंदेलखंड में सूखे से निपटने के प्रति गंभीर नहीं: भाजपा

यूपी सरकार बुंदेलखंड में सूखे से निपटने के प्रति गंभीर नहीं: भाजपाgaonconnection, यूपी सरकार बुंदेलखंड में सूखे से निपटने के प्रति गंभीर नहीं: भाजपा

नई दिल्ली (भाषा)। उत्तप्रदेश सरकार द्वारा 11 हजार करोड़ रुपये का पैकेज मांगने के बीच भाजपा ने राज्य की अखिलेश यादव सरकार पर आरोप लगाया कि वो बुंदेलखंड में सूखे की स्थिति से निपटने के प्रति गंभीर नहीं है और वो इस गंभीर समस्या के समधान के लिए कोई दीर्घकालीन कदम उठाने में विफल रही है साथ ही वहां राहत कार्यो में भी व्यापक भ्रष्टाचार है।

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने कहा, ''प्रदेश सरकार असंवेदनशील है और गंभीर नहीं है। हर साल बुंदेलखंड सूखे से प्रभावित होता है। वो दीर्घकालीन कदम उठाने में विफल रही है। उसे केंद्र से कोष मांगने का अधिकार है और उसने पूर्व के 850 करोड़ रुपये के कोष का केवल 5 प्रतिशत ही खर्च किया।''

उन्होंने कहा, ''उत्तर प्रदेश की सपा सरकार काफी उत्सुकता और तत्परता दिखा रही है और अपनी सफ़लता के बारे में काफी विज्ञापन कर रही है लेकिन ये जमीन पर नहीं दिख रहा है। अगर उसने सूखे से निपटने में कोई पहल की होती तो बुंदेलखंड की स्थिति बेहतर हो सकती थी।''

भाजपा की ओर से उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार की आलोचना उस समय की गई है जब अखिलेश यादव सरकार ने केंद्र ये 11 हजार करोड़ रुपये के सूखा राहत पैकेज की मांग की है। आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ अखिलेश यादव की बैठक हुई। शर्मा ने आरोप लगाया कि पूर्व में बुंदेलखंड के लिए 35 हजार करोड रुपये के पैकेज में काफी भ्रष्टाचार हुआ था।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top