प्रधानों और सचिवों को सिखाया गया कैसे बना सकते हैं अपने गाँव की नींव मजबूत

प्रधानों और सचिवों को सिखाया गया कैसे बना सकते हैं अपने गाँव की नींव मजबूत

कोंच(जालौन)। एक अच्छा मकान हमेशा से ही इंसान की मूलभूत जरुरतों में से एक रहा है, हर किसी का सपना अपने लिए आशियाना बनाना होता है। अगर उसे बनाते समय कुछ बातों का ध्यान न दिया गया, तो लाखों रुपए खर्च करने पर भी कुछ नहीं ठीक होता है। ऐसे में ग्रामीणों को सही मकान बनाने की जानकारी दी गई।


एमपी बिरला ग्रुप के तकनीकि ऑफिसर अजय कहते हैं, "घर बनाते समय साफ पानी का प्रयोग बहुत महत्वपूर्ण होता है क्योंकि ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाले निर्माण में ज्यादातर पोखर तालाब इत्यादि का पानी इस्तेमाल कर लिया जाता है। लेकिन वास्तविकता में हमको वही पानी इस्तेमाल करना चाहिए जिसका प्रयोग हम पीने के लिए करते हैं। पानी का सीधा संबंध निर्माण की मजबूती से होता है और इस्तेमाल किए जाने वाले निर्माण से संबंधित सभी चीजों चाहे वो मौरंग हो या गिट्टी इन सब में हमें इसका खास ख्याल रखना चाहिए। पोखर तालाब इत्यादि का पानी साफ नहीं होता है और सीमेंट के मसाले में यदि इसका प्रयोग किया जाता है तो कहीं न कहीं सीमेंट का मसाला उतना मजबूत नहीं रहता जितना की होना चाहिए।"

ये भी पढ़ें : गांवो तक तकनीकी जानकारी पहुँचने से ही बदल सकती हैं ग्रामीण भारत के निर्माण की तस्वीर

ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाले को भवन निर्माण के संबंध में तकनीकी ज्ञान देने एवं ग्रामीण क्षेत्रों मे होने वाले निर्माण को बेहतर बनाने के लिए गांव कनेक्शन और एमपी बिरला सीमेंट एक साझा मुहिम चला रही है जिसमें गाँव और ब्लॉक स्तर पर ग्राम प्रधानों और सचिवों को जागरूक करने एवं तकनीकी जानकारियां देने के लिए कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है।


इसी क्रम में जालौन जिले के कुछ ब्लॉक में 26 नवंबर 2018 को एक साझा कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें कोच ब्लॉक के लगभग 50 ग्राम प्रधान और 12 पंचायत सचिव शामिल हुए।

बीडीओ सत्तीदीन वर्मा ने गाँव कनेक्शन और एमपी बिरला सीमेंट को धन्यवाद देते हुए यह कहा, "निर्माण कार्य के समय होने वाली छोटी छोटी कमियों के विषय की जानकारी जो बिरला की ओर से आए तकनीकी ऑफीसर ने दी है उससे भविष्य में होने वाला निर्माण कार्य बढ़िया होगा और गांव के लोगों को भी बहुत फायदा होगा।"

एमपी बिरला सीमेंट की ओर से निशांत भूषण पाण्डेय एरिया सेल्स मैनेजर बुन्देलखण्ड ने बताया, "गाँव कनेक्शन और एमपी बिरला द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में हम निर्माण संबंधी कार्यों में गुणवत्ता का ध्यान रखने एवं बरतने वाली सावधानियों के विषय में जानकारी दी जाती है और कार्यक्रम में आने वाले प्रधान और सचिव अपने-अपने क्षेत्र का नेतृत्व करते हैं और जिस गांव और जिस क्षेत्र का नेतृत्व करते हैं उस गांव के लोगों को अपनी बाते समझाकर ज्यादा टिकाऊ और सुदृढ़ निर्माण कार्य करा सकेंगे।"

Share it
Top