डेयरी क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करने का सुनहरा मौका, सरकार दे रही सब्सिडी, पढ़िए पूरी योजना

Diti BajpaiDiti Bajpai   31 Aug 2019 5:40 AM GMT

डेयरी क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करने का सुनहरा मौका, सरकार दे रही सब्सिडी, पढ़िए पूरी योजना

देश में दूध और उससे बने उत्पाद की खपत तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में डेयरी क्षेत्र में रोजगार और व्यवसाय की संभावनाएं भी बढ़ रही हैं। इसी को देखते हुए केंद्र सरकार ने डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS) शुरू की है।

इस योजना के तहत सरकार डेयरी खोलने से लेकर उत्पाद बनाने के लिए उपकरणों पर नाबार्ड के जरिए सब्सिडी दे रही है।

इस योजना का लाभ उठाने के लिए इस लिंक पर https://www.nabard.org/auth/writereaddata/File/Annexure_1.pdf पर क्लिक करके फार्म डाउनलोड कर सकते हैं।

पशुपालन और डेयरी मंत्रालय, केंद्र सरकार के मुताबिक इस योजना को जब से शुरू किया गया है तब से अब तक 371566 लाभार्थियों को 1586.53 करोड़ रुपए की सब्सिडी मिल चुकी है, जिसमें 96,792 महिलाएं भी शामिल है।

यह भी पढ़ें- पांच पशुओं से भी शुरू कर सकते हैं डेयरी व्यवसाय, देखें वीडियाे

डेयरी उद्यमिता विकास योजना का उद्देश्य दूध का उत्पादन बढ़ाना, खरीद करना, संरक्षण परिवहन, प्रोसेसिंग और मार्केटिंग के माध्यम से डेयरी क्षेत्र में स्वरोजगार पैदा करना है। इस योजना के लिए केंद्र सरकार ने साल 2018-19 में 323 करोड़ रुपए का बजट भी तय किया था।

दो पशुओं से डेयरी शुरू करने पर भी सब्सिडी

जो किसान कम पूंजी से इस व्यवसाय को शुरू करना चाहते हैं उनके लिए भी सुविधा है। इस योजना के तहत दो दुधारू पशु से भी डेयरी यूनिट की शुरुआत की जा सकती है। अगर आप 2 दुधारू पशु वाली डेयरी यूनिट शुरू करते हैं तो आपके प्रोजेक्ट की लागत लगभग 1.40 लाख रुपए होगी।

इसमें आपको 35 हजार रुपए तक की सब्सिडी मिल सकती है। अगर आप एससी/एसटी श्रेणी में आते हैं तो आपको दो पशु वाली डेयरी पर 46,600 रुपए की सब्सिडी मिल सकती है।

दस पशुओं पर 1.75 लाख रुपए की सब्सिडी

अगर आप 10 दुधारू पशुओं से डेयरी खोलते हैं तो आपके प्रोजेक्ट की लागत करीब 7 लाख रुपए तक आती है। केंद्र सरकार के कृषि मंत्रालय द्वारा चलाई जा रही इस योजना में आपको लगभग 1.75 लाख रुपए की सब्सिडी मिलेगी।

डेयरी में क्रॉसब्रीड गायें रखनी अनिवार्य

कृषि मंत्रालय द्वारा जारी सर्कुलर के मुताबिक, अगर आप एक छोटी डेयरी खोलना चाहते हैं तो उसमें आपको क्रॉसब्रीड गाय (औसत से अधिक दूध देने वाली) जैसे साहीवाल, रेड सिंधी, गिर, राठी या भैंस रखनी होंगी।


जानिए कितनी मिलेगी सब्सिडी ?

डेयरी उद्यमिता विकास योजना के मुताबिक आपको डेयरी लगाने में आने वाले खर्च का 25 फीसदी कैपिटल सब्सिडी मिलेगी। अगर आप अनुसूचित जाति/जनजाति की श्रेणी में आते हैं तो आपको 33 फीसदी सब्सिडी मिल सकती है। यह सब्सिडी आपको अधिकतम 10 दुधारू पशुओं के लिए ही दी जाएगी।

यह भी पढ़ें- कम पशुओं की डेयरी है आसान और फायेदमंद, जानिए कैसे

एक पशु के लिए केंद्र सरकार 17,750 रुपए की सब्सिडी देती है। अनुसूचित जाति/जनजाति के लोगों के लिए यह सब्सिडी 23,300 रुपये प्रति पशु हो जाती है। एक सामान्य जाति के व्यक्ति को 10 दुधारू पशुओं की डेयरी खोलने पर 1 लाख 77 हजार रुपए की सब्सिडी मिल सकती है।

डेयरी उपकरणों पर भी सब्सिडी

इस योजना के तहत डेयरी उत्पाद बनाने के लिए उपकरणों को खरीद सकते हैं। 13.20 लाख रुपए की मशीन पर 25 फीसदी (3.30 लाख रुपए) की कैपिटल सब्सिडी मिल सकती है। एससी/एसटी कैटेगरी के लोगों को 4.40 लाख रुपए की सब्सिडी मिल सकती है।

मिल्क कोल्ड स्टोरेज खोलने के लिए भी सब्सिडी

इस योजना के तहत दूध और दूधे से बने उत्पाद के संरक्षण के लिए कोल्डत स्टोररेज यूनिट शुरू कर सकते हैं। इस तरह का कोल्ड स्टोरेज बनाने में अगर आपकी लागत 33 लाख रुपए आती है तो इसके लिए सरकार सामान्य वर्ग के आवेदक को 8.25 लाख रुपए और एससी/एसटी वर्ग के लोगों को 11 लाख रुपए तक की सब्सिडी मिल सकती है।


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top