Read latest updates about "पशुधन" - Page 1

  • युवराज, सुल्तान और अब मिलिए विराट से... जो है विश्व का सबसे महंगा भैंसा

    लखनऊ। उपेंद्र सिंह पिछले डेढ़ वर्षों से हर महीने विराट (भैंसा) पर हज़ारों रूपए खर्च कर रहे है। उनको उम्मीद है कि विराट छह महीने के बाद उनको हर महीने उनको लाखों की कमाई कराएगा। हरियाणा, पंजाब के बाद अब यूपी में पिछले कुछ वर्षों से भैंसा पालन का चलन तेजी से बढ़ रहा है। ''हमारे जिले में कृषि...

  • मौके पर ही पता चल पाएगा दूध असली है या नकली

    लखनऊ। दूध और दूध से बने उत्पादों में मिलावट एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है। इस समस्या से निजात पाने के लिए भारतीय विषविज्ञान अनुसंधान संस्थान (आईआईटीआर) ने फोकस मिशन की शुरूआत की है। इस मिशन के तहत ऐसे डिवाइज तैयार किए गए है जिनकी मदद से तुंरत पता चल सकेगा कि दूध में मिलावट है या नहीं। 'पूरे...

  • जानिए पशुओं के अलग-अलग टीके और उनको लगाने का सही समय

    लखनऊ। पशुओं को संक्रामक रोगों से बचाने के लिए पशुओं में टीकाकरण बहुत जरूरी है। अगर पशुपालक सही समय पर टीकाकरण कराए तो बीमारियों से तो बचाया भी जा सकता है साथ उनके दूध उत्पादन में भी वृद्धि होती है। टीकाकरण संक्रामक रोगों से जु्ड़े उपचार की लागत को कम करके किसानों के आर्थिक बोझ को कम करने में मदद...

  • पशुओं के लिए उत्तम हरा चारा है एजोला, जानिए इसे उगाने की पूरी विधि

    गदेला (लखनऊ)। पशुओं के लिए सबसे जरूरी होता है पोषक चारा, जिससे पशुओं का स्वास्थ्य तो सही रहता ही है साथ ही दुधारू पशुओं में दूध की मात्रा भी बढ़ जाती है। ऐसा ही एक चारा है एजोला जिसे पशुपालक उगा कर अपने पशुओं की सेहत बना सकते हैं। साथ ही सुखाकर खेत में प्रयोग करने से मिट्टी में जीवांश की भी मात्रा...

  • छुट्टा पशु समस्या: 'यूरिया की तरह गाय के गोबर खाद पर मिले सब्सिडी, गोमूत्र का हो कलेक्शन'

    अरविंद शुक्ला/दिति बाजपेई लखनऊ (उत्तर प्रदेश)। 'एक देसी गाय (छुट्टा जैसी गाय या गोवंश) एक दिन में 2 से 3 लीटर दूध, 7-10 लीटर गोमूत्र और 10 किलो गोबर देती है। जबकि उसे खाने के लिए सिर्फ 5-6 किलो भूसा चाहिए। अगर गोबर और गोमूत्र इस्तेमाल अच्छे से होने लगे। या फिर सरकार पंचायत स्तर पर किसानों से...

  • कमाई का जरिया और पूजनीय गाय सिरदर्द कैसे बन गई ?

    अरविंद शुक्ला/ दिति बाजपेई लखनऊ/पंजाब। पिछले कुछ वर्षों से गाय राष्ट्रीय मुद्दा है। गाय अख़बारों की हेडलाइन बनी हैं, तो टीवी चैनलों पर घंटों की बहस हुई है। सोशल मीडिया में कई दिनों तक हैशटैग ट्रेंड किए हैं। लेकिन जिस मुद्दे पर गाय को लेकर चर्चा होनी चाहिए थी वो नहीं हुआ, नतीजा ये हुआ कि जो किसान...

  • पांच लाख छुट्टा जानवरों के लिए 613 करोड़ का बजट

    लखनऊ। उत्तर प्रदेश के किसानों को आवारा पशुओं की समस्या से निजात दिलाने के लिए योगी सरकार ने तीसरे बजट में 612.6 करोड़ रुपए का बजट पेश किया है, वहीं पूरे प्रदेश में अभी पांच लाख से ज्यादा पशुओं छुट्टा घूम रहे है। पशुपालन विभाग द्वारा किए गए सर्वे के मुताबिक 31 जनवरी वर्ष 2019 तक पूरे प्रदेश में...

  • इस मशीन की मदद से छह महीने से ज्यादा समय तक सुरक्षित रह सकेंगे पनीर, दूध और मीट

    फरह (मथुरा)। पनीर, दूध और मीट ऐसे उत्पाद हैं, जिनको ज्यादा समय तक सुरक्षित नहीं रखा जा सकता है, लेकिन केन्द्रीय बकरी अनुसंधान संस्थान ने रिट्राट पाउच पैकिंग मशीन की मदद से इन उत्पादों को छह महीने से ज्यादा सुरक्षित रख सकते हैं। केंद्रीय बकरी अनुसंधान संस्थान के गोट प्रोडेक्ट टेक्नोलॉजी लेबोरेटरी...

  • यूपी बजट 2019: आवारा पशुओं के रखरखाव के लिए 448 करोड़ रुपए

    लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा में आज वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने बजट पेश किया। इस बजट में आवारा पशुओं की समस्या को देखते हुए गांवों में गोवंश के रख-रखाव पर 247 करोड़ और शहरों में कान्हा गोशाला के लिए 200 करोड़ जारी किया गया।UP Budget 2019: Rs 247.60 crore has been allocated for the maintenance of...

  • सीमेंट के बने टैंकों में करें मछली पालन, सरकार भी दे रही अनुदान

    लखनऊ। मछली पालन शुरू करने के लिए अब आपको बड़े-बड़े तालाब और ज्यादा पानी की जरूरत नहीं है। रिसर्कुलर एक्वाकल्चर सिस्टम (आरएएस) तकनीक की मदद से सीमेंट के टैंक बनाकर मछली पालन कर सकते हैं। इस तकनीक के लिए केंद्र सरकार मदद भी करती है। आरएएस (RAS) वह तकनीक है, जिसमें पानी का बहाव निरंतर बनाए रखने लिए...

  • पशुपालकों को दो रुपये प्रति लीटर दूध पर बोनस देगी राजस्थान सरकार

    जयपुर (भाषा)। जहां देश के किसान दूध के दामों को लेकर परेशान है। वहीं राजस्थान सरकार ने सहकारी दुग्ध उत्पादक संघों को दूध आपूर्ति करने वाले पशुपालकों को दो रुपये प्रति लीटर बोनस देने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य विधानसभा में इसकी घोषणा की थी, जिसका आदेश जारी कर दिया गया। सरकारी...

  • आगरा-झांसी रेलवे ट्रैक पर कटे पांच गोवंश, ग्रामीण ने किया हंगामा

    लखनऊ। आगरा में ट्रेन से कटकर पांच गोवंश की मौत हो गई। आगरा-झांसी रेलवे ट्रैक के बीच बमरौली अहीर गाँव के पास यह हादसा हुआ। घटना के बाद आस-पास के ग्रामीणों ने रेलवे ट्रैक के पास हंगामा किया और फिर जेसीबी मशीन की मदद से गड्ढा खोदकर गोवंश के शवों को दफनाया गया। इस दौरान प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद रहे।...

Share it
Top