भारतीय रेल में होने जा रहा है बड़ा फेर बदल, एक नवंबर है खास तारीख

भारतीय रेल में होने जा रहा है बड़ा फेर बदल, एक नवंबर है खास तारीखप्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ। पिछले कुछ दिनों से रेलवे में लगातार हो रहे हादसों पर लगाम लगाने के लिए रेल विभाग ने कमर कस ली है। रेल मंत्री पीयुष गोयल ने इसके लिए कड़े फैसले लिए हैं।

इन फैसलों के बाद भारतीय रेल का सफर सुरक्षित और सुविधाजनक हो सकता है। पीयूष गोयल ने साथ ही कहा कि रेलवे सुरक्षा के लिए इसरो के साथ मिलकर काम करेंगे। आखिर पीयुष गोयल ने क्या लिए हैं फैसले आपको बताते हैं...

यह भी पढ़ें- रेल के डिब्बों में लगेंगे CCTV, रेल मंत्री ने जनता की सुरक्षा के किए बंदोबस्त

सुरक्षित पटरियों पर दौड़ेगी भारतीय रेल

पिछले कुछ रेल हादसों में खराब पटरियां हादसों की बड़ी वजह बनीं। ऐसे में रेल मंत्री ने रेल बजट के आवंटन में पटरियों की मरम्मत, नई रेल लाइन और गेज कनवर्जन को प्रमुखता देने का फैसला किया है।

खत्म होंगी मानवरहित क्रासिंग, इलेक्ट्रानिक होंगे सिग्नल

हादसों के मद्देनजर 5,000 मानवरहित क्रासिंग को समय सीमा में खत्म किया जाएगा। इसके अलावा मॉर्डन सिग्नल सिस्टम का इस्तेमाल रेलवे आने वाले समय में करेगी।

इलेक्ट्रानिक इंटरलॉकिंग, रेल कोच में बदलाव

मेन्युअल इंटरलॉकिंग की जगह इलेक्ट्रानिक इंटरलॉकिंग का इस्तेमाल,फील्ड निरीक्षण पर विशेष जोर के साथ एलएचबी कोच की जगह आईसीएफ कोच का इस्तेमाल अगले साल से करने के फैसले पर रेलमंत्री ने मुहर लगाई।

सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरों का होगा इस्तेमाल

सुरक्षा और चौकस करने के लिए रेलवे स्टेशनों और ट्रेनों में सीसीटीवी कैमरों का इस्तेमाल करने का फैसला लिया गया है। रेल पटरियों के डिफेक्ट चेक करने के लिए भी विशेष कैमरे इस्तेमाल किए जाएंगे ।

ट्रेनों की बढ़ाई जाएगी स्पीड

1 नवंबर 2017 से 700 ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने का फैसला भी लिया गया साथ ही 48 ट्रेनों को मेल से सुपरफास्ट कैटगरी में बदला जाएगा।

यात्रियों को मिलेंगी ये सुविधाएं

जीपीएस से जान पाएंगे ट्रेनों की लोकेशन रेल मंत्रालय जीपीएस प्रोजेक्‍ट पर भी काम करने की तैयारी में है। इस प्रोजेक्ट के लागू होने के बाद यात्री ट्रेनों की आवाजाही और उनके रियल टाइम को घर बैठे जान पाएंगे।

20 स्टेशनों को बनाया जाएगा आधुनिक

रेल मंत्री ने 20 स्टेशनों को आधुनिक बनाने का भी फैसला लिया है। इन 20 स्टेशनों में साल 2018 से यात्रियों को होटल, मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब, शॉपिंग जैसी सुविधाएं मिल सकेंगीं।

यूनिफॉर्म में होगा चेकिंग स्‍टाफ

रेलवे के सभी कर्मचारी यूनिफॉर्म में होंगे। खासकर चेकिंग स्‍टाफ को हर हाल में यूनिफॉर्म में रहना होगा। जीआरपी द्वारा यात्रियों का टिकट चेक करने पर रेलमंत्री ने पाबंदी लगाई है ।

स्टेशनों और ट्रेन में मिलेगा वाईफाई, मोबाइल एप होगा अपग्रेड

यात्रियों की सुविधाओं के लिए, रेल मोबाइल एप को अपग्रेड करने का भी फैसला रेलमंत्री ने किया है। सभी स्टेशनों और ट्रेनों में यात्रियों को हाईस्पीड वाईफाई की सुविधा भी दी जाएगी ।

फूड पैकेट पर एमआरपी

प्रत्येक फूड पैकेट पर अधिकतम बिक्री मूल्य छपा होना आवश्यक किया गया है, ताकि किसी से भी अधिक मूल्य ना लिया जा सके।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

संबंधित खबरें- रेल यात्रा के दौरान लगेज बुक न कराना पड़ सकता है भारी, कहीं भुगतना न पड़े ख़ामियाज़ा

जीआरपी या आरपीएफ को नहीं है रेल यात्रियों के टिकट चेक करने का अधिकार

Share it
Top