मोदी सरकार में मंत्री नहीं बनेंगे अरुण जेटली, पीएम को चिट्ठी लिखकर सेहत का दिया हवाला

भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने सरकार के शपथग्रहण से एक दिन पहले बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर नई सरकार में मंत्री बनने में असमर्थता जाहिर की है।

मोदी सरकार में मंत्री नहीं बनेंगे अरुण जेटली, पीएम को चिट्ठी लिखकर सेहत का दिया हवाला

नई दिल्‍ली (भाषा)। भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने सरकार के शपथग्रहण से एक दिन पहले बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर नई सरकार में मंत्री बनने में असमर्थता जाहिर की है। उन्होंने खराब स्वास्थ्य के चलते नई सरकार में मंत्री बनने से इनकार किया है।

जेटली ने प्रधानमंत्री को भेजा गया अपना पत्र ट्विटर और फेसबुक पर भी शेयर किया है। जेटली ने कहा कि हाल ही में संपन्न चुनाव में भाजपा को भारी बहुमत मिलने के तुरंत बाद उन्होंने अपनी अघोषित बीमारी का इलाज के लिए समय देने के बारे में पीएम मोदी को सूचित किया था। उन्होंने कहा, मैं आपसे औपचारिक रूप से यह निवेदन करने के लिए लिख रहा हूं कि मुझे अपने लिए, अपनी चिकि‍त्सा के लिए और अपने स्वास्थ्य के लिए कुछ समय चाहिए। इस कारण मुझे अभी नई सरकार में कोई जिम्मेदारी न दी जाए।

इसे भी पढ़ें- टाइम मैगजीन ने लिया यू-टर्न, कहा- पीएम मोदी ने देश को जोड़ा है

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जेटली को पिछले सप्ताह इलाज के लिए एम्स में भर्ती होना पड़ा था। उन्हें चुनाव परिणाम की घोषणा वाले दिन बृहस्पतिवार को अस्पताल से छुट्टी दी गई थी। फिर भी जेटली उस दिन शाम में भाजपा मुख्यालय में आयोजित जीत के जश्न समारोह में शामिल नहीं हो पाए थे।

जेटली ने पत्र में लिखा कि पिछले 18 महीनों में उन्होंने कुछ गंभीर स्वास्थ्य चुनौतियों का सामना किया है। मेरे चिकि‍त्सकों ने उनमें से अधिकांश चुनौतियों से मुझे सफलतापूर्वक बाहर निकाला है। जब चुनाव प्रचार खत्म हो चुका था और आप केदारनाथ जा रहे थे, तो मैंने आप से जुबानी कहा था कि चुनाव प्रचार के दौरान मुझे जो जिम्मेदारियां दी थीं, मैं उन्हें पूरा करने में यद्यपि समर्थ रहा लेकिन भवि‍ष्य में कुछ समय के लिए मैं जिम्मेदारी से दूर रहना चाहूंगा।

इसे भी पढ़ें- पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे कई देशों के नेता, पाक को नहीं मिला न्‍यौता

इससे मैं अपने स्वास्थ्य एवं चिकि‍त्सा पर ध्यान दे सकूंगा। उन्होंने लिखा कि आपके नेतृत्व वाली सरकार में पिछले पांच साल रह कर काम करना मेरे लिए बड़े गर्व की बात है और यह एक शि‍क्षाप्रद अनुभव रहा है। इससे पहले भी पार्टी ने मुझे पहली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार में, पार्टी संगठन में और जब हम विपक्ष में थे तब भी मुझे विभि‍न्न दायि‍त्व सौंपा। मैं अब इससे अधिक की अपेक्षा कर भी नहीं सकता था।

प्रधानमंत्री मोदी की पिछली सरकार में अरुण जटली ने वित्त मंत्रालय संभाला है, इसके अलावा कुछ समय के लिए रक्षा मंत्रालय भी देखा है, लेकिन कई बार उनकी सेहत खराब होने की वजह से उन्हें ईलाज के लिए विदेश जाना पड़ा है। इसी को ध्यान में रखते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से आग्रह किया है कि उन्हें उपचार के लिए कुछ समय दिया जाए ताकि वह अपनी सेहत का ध्यान रख सकें। आपको बता दें कि लोकसभा चुनावों में शानदार जीत के बाद नरेंद्र मोदी लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री पद के लिए शपथ लेने वाले हैं। प्रधानमंत्री का शपथग्रहण समारोह 30 मई की शाम को राष्ट्रपति भवन में होना है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस समारोह में कई केंद्रीय मंत्रियों को भी शपथ लेनी है।


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top