नोटबंदी की वर्षगांठ से पहले एक शख्स को मिला ऐसा तोहफा कि देखकर फटी रह गई आंखें

नोटबंदी की वर्षगांठ से पहले एक शख्स को मिला ऐसा तोहफा कि देखकर फटी रह गई आंखेंएटीएम से निकला 2000 का अजीब नोट

नई दिल्ली। 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री मोदी ने देश में 500 और 1000 के नोट को देश में बंद करने का ऐलान किया था जिसके पूरे एक वर्ष होने वाले हैं। नोटबंदी की वर्षगांठ के एक दिन पहले दिल्ली के एक शख्स को एक ऐसा तोहफा मिला जिसको देखकर उसकी आंखें फटी की फटी रह गई। वो अपने आप को कोस रहा है कि आखिर क्यूं वह आज के ही दिन पैसे निकालने आया।

हुआ यूं कि दिल्ली के जामिया नगर इलाके में शादाब चौधरी नाम के एक जनाब को पैसों की जरूरत पड़ी तो वे जामिया नगर में डीसीबी बैंक के एटीएम जा पहुंचे। जनाब ने एटीएम से 10 हजार रुपए निकाले। रुपए निकालने के बाद जनाब ने जैसे ही पैसों को गिना तो इनके चेहरे का रंग ही पीला पड़ गया। 10 हजार की रकम में एक 2000 का नोट था जिसका आधा भाग असली था और दूसरा आधा भाग टेप से सफेद कागज चिपका था।

नोट को देखकर जनाब शादाब ने तुरंत कस्टमर केयर को फोन घुमाया, लेकिन जैसा की अक्सर होता है वहां से कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं मिल पाया। फिर अपना सारा काम-धाम छोड़कर वो बैंक की तरफ दौड़े। वहां जब बैंक के अधिकारियों को इस बात से अवगत कराया तो बैंक वालों ने शिकायत दर्ज कर जांच कराने की बात कही। बैंक से निकलने के बाद शादाब ने पुलिस में भी इसकी शिकायत दर्ज कराई। पूरा दिन भाग दौड़ के बाद अभी तक वे ये नहीं समझ पा रहे हैं कि आखिर इस नोट का करें क्या ।

शादाब बताते हैं, "मैँने जैसे ही एटीएम से पैसे निकलने के बाद इस अजीब नोट को देखा मेरी तो सांसे ऊपर नीचे होने लगीं। मैंने तुरंत एटीएम के सीसीटीवी कैमरे की ओर इस नोट को दिखाने का प्रयास किया, ताकि साबित हो सके कि नोट इसी एटीएम से निकला है। मगर उस वक्त कैमरा चालू था या नहीं, ये नहीं बता सकता। इस एटीएम बूथ से सिर्फ कैश निकालने की ही व्यवस्था है।"

शादाब आगे बताते हैं, "मैंने जिस काम के लिए पैसे निकाले थे वो काम तो नहीं हो पाया लेकिन पूरा दिन बस भाग-दौड़ में ही निकल गया। मैंने कस्टमर केयर से लेकर बैँक और पुलिस तक एटीएम से इस अजीब नोट निकलने की शिकायत दर्ज करा दी है लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ। आखिर मैं इस नोट का करूं क्या।"

इस तरह का देश का पहला मामला

बैंक के एटीएम से 2000 हजार रुपये का एक अनोखा नोट जिसका आधा भाग असली और दूसरा आधा भाग सफेद कागज का ऐसा मामला देश में पहला है।

पुलिस में दर्ज की शिकायत

पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक शाहिनबाग में रहने वाले 29 वर्षीय मोहम्मद शादाब दोपहर करीब 12 बजे शाहिनबाग ठोकर नंबर आठ में एक मसजिद के पास डीसीबी के एटीएम से 10 हजार रुपए निकालने गए थे। शादाब के पास यस बैंक का एटीएम था, जिसकी ब्रांच जसोला में है। एटीएम से चार नोट दो हजार रुपये के, तीन नोट 500 के और पांच नोट 100 रुपये के निकले। इन्हीं में दो हजार का एक नोट आधा था जिस पर टेप से आधा कागज चिपका था।

ये भी पढ़ें:- अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार विजेता रिचर्ड एच थेलर ने मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले का किया था समर्थन

कस्टमर केयर से नहीं मिला रिस्पांस

शादाब ने फौरन मौके से ही एटीएम बूथ पर लिखे कस्टमर केयर नंबर पर कॉल किया, लेकिन वहां से उन्हें कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। इस सिलसिले में उसे हरिनगर स्थित ब्रांच जाने के लिए कहा गया। इसके बाद पीड़ित ने यस बैंक ब्रांच के अधिकारियों को फोन कर मामले से अवगत करवाया।

अगर आपके साथ ऐसा कुछ हो, तो ये उठाएं कदम

  • अगर एटीएम से कोई नकली या अजीब नोट निकले तो सबसे पहले संबंधित बैंक के कस्टमर केयर को कॉल कर जानकारी दें।
  • एटीएम में लगे सीसीटीवी की तरफ उस नोट को दिखाएं, ताकि यह साबित हो सके कि नकली नोट इसी एटीएम से निकला है।
  • फौरन पुलिस को सूचित करें। फिर जिस बैंक में आपका खाता है, उसे भी तुरंत इसकी सूचना दें।

बैंक की चूक

  • एटीएम बूथ पर कोई सिक्योरिटी गार्ड नहीं था
  • एटीएम में सेंसर होते हैं, तो ऐसा नोट निकला कैसे?
  • कई स्तर पर नोट जांचे जाते हैं, किसी ने नहीं पकड़ा

ये भी पढ़ें:- नोटबंदी में पारदर्शिता बरतना धोखाधड़ी की बड़ी वजह बन सकता था : जेटली

Share it
Top