वसुंधरा राजे के गृह जिले में कर्ज में डूबे किसान ने की आत्महत्या  

वसुंधरा राजे के गृह जिले में कर्ज में डूबे किसान ने की आत्महत्या  फंदा।

कोटा (राजस्थान, भाषा)। राजस्थान में कर्ज में डूबे एक और किसान ने आत्महत्या कर ली। इस बार यह घटना मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के गृह जिले झालावाड़ में हुई है। बर्धी लाल राठौड़ (66) के परिजनों ने बताया कि उसने भारतीय स्टेट बैंक से ऋण लिया था और भारी कर्ज के बोझ की वजह से तनाव में था। झालावाड़ के पुलिस उपाधीक्षक वैभव शर्मा ने कहा कि कल शाम बर्धी लाल ने सुनैल शहर के एक खेत में एक पेड़ से फांसी लगा ली।

संबंधित खबर : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से कहा- किसान आत्महत्या के मुद्दे से निपटने की योजना बताइए

प्रशासनिक अधिकारियों ने हालांकि इस बात से इनकार किया कि राठौड़ ने कर्ज की वजह से यह कठोर कदम उठाया है। उसके परिजन ने बताया कि राठौड़ ने कल शाम चाय पी और खेत के लिये निकला गया। जब उसकी पत्नी और बेटा मवेशियों को वापस लाने के लिए खेत गये, तो वहां उन दोनों ने एक पेड़ से उसको लटका हुआ पाया। उनके परिवार वालों ने बताया कि राठौड़ ने बैंक और स्थानीय साहूकारों से 4.50 लाख रुपये का ऋण लिया था।

ये भी पढ़ें : 22 महीने में 850 किसानों ने की आत्महत्या, योगी आदित्यनाथ दें ध्यान: भारतीय किसान यूनियन

उन्होंने बताया कि लगातार दो वर्षों से पैदावार न होने से उनकी आथर्कि स्थिति बेहद खराब हो गई। स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों ने कहा है कि राठौड़ ने निजी कारणों से अपनी जान दी। डीएसपी शर्मा ने कहा कि किसान के पास से कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला और इस संबंध में आत्महत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। 21 जून को भी राज्य के बारन जिले के 30 वर्षीय एक किसान ने कर्ज में डूबे होने के कारण कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहांक्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top