भारत पिछले 15 वर्षों से विश्व का सर्वाधिक दूध उत्पादन करने वाला देश: राधा मोहन सिंह

भारत पिछले 15 वर्षों से विश्व का सर्वाधिक दूध उत्पादन करने वाला देश: राधा मोहन सिंहराधा मोहन सिंह।

लखनऊ। दुग्ध व्यवसाय में भारत विश्व के उस पटल पर पहुंच गया है जहां पर उधमियों के लिये अनेक संभावनाएं उभर कर सामने आ रही है। भारत पिछले 15 वर्षों से विश्व का सर्वाधिक दूध उत्पादन करने वाला देश बना हुआ है। यह बात दिल्ली के पूसा स्थित राष्ट्रीय दुग्ध दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधा मोहन सिंह ने कही।

ये भी पढ़ें- राष्ट्रीय दुग्ध दिवस : पशु प्रताड़ना पर जुर्माना 50 रुपए से बढ़ाकर 20,000 रुपए किया जाए

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कृषि मंत्री ने कहा 2013-14 में दूध का उत्पादन करीब 137.7 मिलियन टन दूध का उत्पादन हुआ था जो बढ़कर 2016-17 में 163.6 मिलियन टन हो गया है। इस हिसाब से लगभग 18.81 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि भूमिहीन एवं सीमांत किसान के लिये डेयरी व्यवसाय उनके जीवनयापन का एक जरिया बन गया है। करीब 7 करोड़ ऐसे ग्रामीण किसान परिवार डेयरी से जुड़े हुए हैं जिनके पास कुल गायों की 80 प्रतिशत आबादी है। इतना ही नहीं कामकाज करने वाली 70 प्रतिशत महिलाओं का हिस्सा डेयरी व्यवसाय में कार्य कर रहा है।

ये भी पढ़ें- National Milk Day : बकरियों के दूध से बन रहा दही और पनीर, अच्छे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद

पिछले 15 वर्षों से दुग्ध सहकारी संस्थाओं ने अपने कुल उपार्जित दूध के 20 प्रतिशत हिस्से को मूल्य वृद्धि दुग्ध पदार्थों में परिवर्तित किया गया है जिससे तरल दूध की अपेक्षा 20 प्रतिशत अधिक आय होती है। अपेक्षा है कि 2021-22 तक 30 प्रतिशत दूध को मूल्य वृद्धि पदार्थो में परिवर्तित किया जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top