योग दुनिया को एकजुट करने का जरिया : मोदी

मोदी ने उत्तराखंड में चौथे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में कहा, "योग दुनिया की सबसे बड़ी यूनिफाइंग फोर्सेज में से एक बन गया है। व्यक्ति,परिवार, समाज, देश, विश्व और संपूर्ण मानवता को जोड़ता है।"

योग दुनिया को एकजुट करने का जरिया : मोदी

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि योग में लोगों, समाज, देश और दुनिया को जोड़ने की शक्ति है और यह दुनिया की सबसे बड़ी यूनिफाइंग फोर्सेज में से एक है। मोदी ने उत्तराखंड में चौथे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में कहा, "योग दुनिया की सबसे बड़ी यूनिफाइंग फोर्सेज में से एक बन गया है। व्यक्ति,परिवार, समाज, देश, विश्व और संपूर्ण मानवता को जोड़ता है।

योगाभ्यास उतना ही सेकुलर है जितना हमारा संविधान


साभार: इंटरनेट

उन्होंने कहा कि विश्व ने योग को अपना लिया है और जिस तरह से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस हर साल मनाया जाता है, इससे इसकी झलक मिलती है। मोदी ने कहा, "वास्तव में योग दिवस स्वस्थ और बेहतर जीवन के लिए सबसे बड़े सामूहिक अभियानों में से एक बन गया है।" प्रधानमंत्री ने कहा कि योग खूबसूरत है क्योंकि यह प्राचीन होने के साथ-साथ आधुनिक भी है। उन्होंने कहा, "इसमें लगातार विकास हो रहा है। इसमें हमारे अतीत, मौजदूा और भविष्य की उम्मीद है। हम आज जिन समस्याओं का सामना कर रहे हैं, उसका बेहतर समाधान योग है।' आज के बदल रहे समय में योग मनुष्य के शरीर, मस्तिष्क और आत्मा को एकसाथ बांध देता है और शांति देता है। मोदी ने कहा, "शांत और रचनात्मक जीव जीवन की कुंजी ही योग है। यह तनाव और मानसिक बैचेनी को हरा देता है। योग बांटने के बजाए लोगों को जोड़ता है।" प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि योग मानवता के लिए सबसे बेशकीमती उपहारों में से एक है। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस दुनियाभर में मनाया जा रहा है। देहरादून से लेकर डबलिन, जकार्ता से लेकर जोहान्सबर्ग तक पूरी दुनिया में आज योग दिवस मनाया जा रहा है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने देहरादून को योग दिवस पर मुख्य आयोजन स्थल के तौर पर चुनने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का आभार जताते हुए कहा कि इस कदम से राज्य में पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

योग कनेक्शन: पद्मासन करने की विधि और सावधानियां



राज्यपाल राम नाईक ने योगी संग योग किया

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर गुरुवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में राजभवन में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा व लखनऊ की मेयर संयुक्ता भाटिया ने योग किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, "करो योग, रहो निरोग स्लोगन एक जिज्ञासु के लिए बहुत ही उपयुक्त है।" उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के प्रयास से ही हमारी पुरानी विधा योग को वैश्विक पहचान मिली है। अब सब इस विधा का लाभ लेने के गंभीर प्रयास करना चाहिए। राजनाथ ने कहा, "मोदी ने योग को विश्व पटल पर मान्यता दिलाई। पहले लोग कहते थे कि वह किसी एक धर्म से जुड़े हैं, लेकिन अगर एक धर्म से जुड़ा होता तो दुनिया के 177 देशों का इसे समर्थन न मिलता। 46 इस्लामिक देशों ने इसे संयुक्त राष्ट्र में अपना समर्थन दिया है।"

साभार: एजेंसी

योग कनेक्शन: निरोग रहने के लिए योग जरूरी


Share it
Share it
Share it
Top