यूनेस्को ने कुंभ मेले को भारत की सांस्कृतिक धरोहर की मान्यता दी

Shrinkhala PandeyShrinkhala Pandey   7 Dec 2017 6:27 PM GMT

यूनेस्को ने कुंभ मेले को भारत की सांस्कृतिक धरोहर की मान्यता दीकुंभ मेला सांस्कृतिक धरोहर लिस्ट में शामिल।

नई दिल्ली (भाषा)। यूनेस्को ने भारत के कुंभ मेले को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर के तौर पर मान्यता दी है। अंतरराष्ट्रीय संगठन ने आज ट्विटर पर यह जानकारी दी।

यूनेस्को के अधीनस्थ संगठन इंटरगर्वनमेंटल कमिटी फोर द सेफगार्डिंग ऑफ इन्टेंजिबल कल्चरल हेरीटेज ने दक्षिण कोरिया के जेजू में हुए अपने 12वें सत्र में कुंभ मेले को मावनता के अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर की प्रतिनिधि सूची में शामिल किया।

दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक मेला माना जाने वाला कुंभ मेला सूची में बोत्सवाना, कोलंबिया, वेनेजुएला, मंगोलिया, मोरक्को, तुर्की और संयुक्त अरब अमीरात की चीजों के साथ शामिल किया गया है।

संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने ट्वीट किया, “हमारे लिए बेहद गौरव का क्षण है कि यूनेस्को ने कुंभ मेला को मानवता के अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर के तौर पर जगह दी है।” उन्होंने कहा, “कुंभ मेला को धरती पर श्रद्धालुओं का सबसे बड़ा शांतिपूर्ण जमघट समझा जाता है जिसमें जाति, पंथ या लिंग से इतर लाखों लोग हिस्सा लेते हैं।”

ये भी पढ़ें: उज्जैन के सिंहस्थ कुंभ मेले में खोये 500 लोग अब भी लापता

ये भी पढ़ें: जल्दी ही तीर्थस्थल घोषित होगा मथुरा : श्रीकांत शर्मा

ये भी पढ़ें: कुंभ स्नान का धार्मिक से अधिक सामाजिक महत्व

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top