वित्त मंत्रालय ने निवेशकों को चेताया, क्रिप्टोकरेंसी की कोई कानूनी मान्यता नहीं  

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   29 Dec 2017 2:33 PM GMT

वित्त मंत्रालय ने  निवेशकों को चेताया, क्रिप्टोकरेंसी की  कोई कानूनी मान्यता नहीं  वित्त मंत्रालय का निवेशकों के लिए चेतावनी 

नई दिल्ली (भाषा)। वित्त मंत्रालय ने निवेशकों के लिए चेतावनी जारी की है कि क्रिप्टोकरेंसी की कोई कानूनी मान्यता नहीं है और इस तरह की मुद्रा की कोई सुरक्षा नहीं है।

उल्लेखनीय है कि बिटकॉइन समेत हाल के दिनों में वर्चुअल करेंसी (क्रिप्टोकरेंसी) के मूल्य में तेजी से वृद्धि हुई है, यह वैश्विक स्तर के साथ-साथ भारत में भी हुई है। मंत्रालय का कहना है कि इस तरह की मुद्रा का कोई वास्तविक मूल्य नहीं है और ना ही इसके पीछे कोई संपत्ति है।

ये भी पढ़ें- बढ़ रहा है बिटकॉइन का क्रेज कंपनियां नाम के आगे या पीछे जोड़ रही बिटकॉइन

मंत्रालय ने एक बयान में कहा, बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टोकरेंसी की कीमत पूरी तरह अटकलों पर आधारित परिणाम है और इसलिए इसकी कीमतों में इतना उतार-चढ़ाव है। बयान के मुताबिक इस तरह के निवेश में वैसा ही उच्च स्तर का जोखिम है जैसा कि पोंजी योजनाओं में होता है. इससे निवेशकों को अचानक से भारी नुकसान हो सकता है विशेषकर खुदरा ग्राहकों को जिनकी मेहनत की गाढ़ी कमाई को झटका लग सकता है।

ये भी पढ़ें- ये है दुनिया की सबसे महंगी करेंसी... जानिए बिटकॉइन की ए बी सी डी

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

मंत्रालय ने कहा कि क्रिप्टोकरेंसी धारकों, उपयोक्ताओं और कारोबारियों को पहले ही भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा तीन बार इसके खतरों के प्रति आगाह किया जा चुका है। साथ ही केंद्रीय बैंक ने यह भी सूचित किया है कि इस तरह की मुद्रा के सौदों या संबंधित योजनाओं को चलाने के लिए उसने किसी को लाइसेंस या प्रमाणन नहीं दिया है।

ये भी पढ़ें- डार्कनेट और बिटकॉइन के जरिए भारत में हो रहा नशे का कारोबार

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top