एक अरब बार कोशिश करने पर भी आधार कार्ड में नहीं की जा सकती सेंधमारी

एक अरब बार कोशिश करने पर भी आधार कार्ड में नहीं की जा सकती सेंधमारीप्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली। केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आधार का बायोमेट्रिक डेटा पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि इस डेटा को एक अरब बार कोशिश करने पर भी कोई हैक नहीं कर सकता है। रविशंकर प्रसाद यहां एक सार्वजनिक कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा, "सिस्टम में मेरी अंगुलियों की छाप और आंख की पुतलियों के स्कैन सुरिक्षत हैं और एक अरब बार प्रयास करने पर भी उसमें सेंधमारी नहीं की जा सकती है।"

देशभर में 2021 तक सभी मानव रहित रेलवे क्रासिंग खत्म हो जाएंगे



मंत्री ने कहा कि आधार के प्राधिकारी हर सेकंड एक करोड़ जांच करते हैं। मंत्री ने सवालिया लहजे में कहा, "क्या आपको पता है कि हर तीन सेकंड पर हम कितनी बार सत्यापन करते हैं? तीन करोड़। क्या आपको पता है कि कितने बैंक खाते आधार से जुड़े हैं? 80 करोड़। और आधार आपकी घरेलू प्रौद्योगिकी है और संसद की मंजूरी के साथ पूरी तरह सुरक्षित है।" उन्होंने कहा, "यह इतना कठिन है कि अगर मैं अंगुलियों की छाप और आंख की पुतलियों के स्कैन की जानकारी का खुलासा राष्ट्रीय सुरक्षा के मामले के सिवा किसी अन्य परिचित व्यक्ति को करता हूं तो मेरे ऊपर अभियोग चल सकता है। हमने इसमें इस बात को समाविष्ट किया है।"

अगर आप हैं केंद्रीय कर्मचारी तो पेंशन के लिए जरूरी नहीं है आधार

उन्होंने कहा, "भारत का डिजिटल प्रोफाइल क्या है? देश की 130 करोड़ की आबादी में 121 करोड़ मोबाइल फोन भारत में हैं। देश में 45 करोड़ स्मार्टफोन और 50 करोड़ से अधिक इंटरनेट कनेक्शन हैं। साथ ही, 122 करोड़ लोगों के पास आधार कार्ड हैं।"

साभार: एजेंसी

बनवा रहे हैं प्लास्टिक का आधार कार्ड तो हो जाएं सावधान


Share it
Share it
Share it
Top