अयोध्या में राम मंदिर अगली दीपावाली तक: सुब्रह्मण्यम स्वामी

अयोध्या में राम मंदिर अगली दीपावाली तक: सुब्रह्मण्यम स्वामीसुब्रह्मण्यम स्वामी    (फोटो: इंटरनेट)

पटना (भाषा)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने सोमवार को कहा कि अयोध्या में राम मंदिर की राह में आई रुकावटों को दूर किया जा रहा है। निर्माण कार्य जल्द शुरू किया जाएगा। अगले सप्ताह हम लोग दीपावाली मनाने वाले हैं, पर अगली दीपावाली तक राम मंदिर श्रद्धालुओं के लिए पूजा के लिए उपलब्ध होगा। वह बिहार की राजधानी पटना में विराट हिंदु संगम की ओर से आयोजित एक समारोह में बोल रहे थे।

चुनावी कामयाबी के लिए हिंदुत्व को भी याद रखना जरूरी

भाजपा नेता ने कहा, “केवल विकास की बात कर कोई वोट हासिल नहीं कर सकता। चुनावी कामयाबी के लिए हिंदुत्व को भी याद रखना जरूरी है।“

जानकी मंदिर का निर्माण हिंदू जागरण के लिए आवश्यक

स्वामी ने कहा, “अयोध्या में निश्चित तौर पर श्रीराम मंदिर का निर्माण होगा। साथ ही जगत जननी सीता जी की जन्मस्थली सीतामढ़ी में भव्य जानकी मंदिर का निर्माण हिंदू जागरण के लिए आवश्यक बताया, क्योंकि सीता जी के बिना मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की कल्पना ही नहीं की जा सकती है।“

एशिया का सबसे बड़ा मंदिर होगा

उन्होंने कहा, “माता सीता का यह मंदिर एशिया का सबसे बड़ा मंदिर होगा और वहां एक विश्वविद्यालय भी खोला जाएगा। देवों के देव महादेव के कोसी क्षेत्र स्थित सिंहेश्वर स्थान के शिव मंदिर से जुड़े अंतरराष्ट्रीय वेद शोधशाला की स्थापना की जाएगी।“

यह भी पढ़ें: ताजमहल भारतीय संस्कृति पर एक धब्बा : भाजपा विधायक

यह भी पढ़ें: RSS के एजेंडे पर काम कर रही है योगी सरकार : सपा

Share it
Top