उंगली ही नहीं- चेहरा भी बताएगा आपकी पहचान, यूआईडीएआई की बड़ी पहल

उंगली ही नहीं- चेहरा भी बताएगा आपकी पहचान, यूआईडीएआई की बड़ी पहलआधार कार्ड सेंटर

नई दिल्ली। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने आधार सत्यापन के लिए उंगुलियों के निशान तथा आंखों की पुतलियों के अतिरिक्त चेहरे की पहचान को भी शामिल करने की अनुमति दे दी है। अब आपके चेहरे को भी पहचान के तौर पर शामिल किया गया है। यानी अब आपकी उंगली और पुतलियों के साथ-साथ अपने चेहरे से भी आधार की पहचान की जाएगी।

आधार की पहचान में नया फीचर भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडएआई) ने आधार सत्यापन के लिए नए फीचर को एड करने का फैसला किया है। इसके तहत यूआईडएआई ने आधार सत्यापन के लिये उंगली और आंख की पुतलियों के अतिरिक्त चेहरे की पहचान को भी शामिल करने का फैसला किया गया है।

एक जुलाई से नया फीचर

यूआईडीएआई ने चेहरे को आधार के पहचान के तौर पर शामिल करने का फैसला किया है। ये नया सिक्योरिटी फीचर एक जुलाई से शुरू होगा। प्राधिकरण ने सुप्रीम कोर्ट के आधार की अनिवार्यता के बाद नए फीचर को जोड़ने का फैसला किया है। कोर्ट में पीआईएल पर सुनवाई हुई थी कि आखिर आधार को क्यों अनिवार्य किया जाए, जिसके बाद यूआईडीएआई ने आधार को और सुरक्षित करने का फैसला किया।

ये भी पढ़ें:- आधार को बदनाम करने की योजनाबद्ध मुहिम : नीलेकणि

मौजूद फीचर्स के साथ होगा एड

यूआईडीएआई ने कहा है कि 1 जुलाई से नया फीचर एड होगा और रजिस्टर्ड डिवाइसेज पर ऑथेंटिकेशन के मौजूदा साधनों यानी कि उंगली के निशान, आंख की पुतली और ओटीपी के साथ ही एड होगा। यानी इन तीन फीचरों के साथ चेहरे वाला पहचान किसी एक के साथ ही आएगा।

कार्ड होल्डर की पहचान अथॉरिटी के मुताबिक

1 जुलाई से आधार कार्ड धारक की पहचान वेरीफाई करने के लिए फेस फोटो का इस्तेमाल भी किया जाएगा। इसका फायदा उन्हें मिलेगा जिनकी आइरिस या फिंगरप्रिंट ठीक से काम नहीं कर पाती है।

ये भी पढ़ें:- 71 करोड़ से ज्यादा मोबाइल फोन आधार से जुड़े

सीनियर सिटिजन को फायदा

आपको बता दें कि इस फीचर का सबसे ज्यादा फायदा बुजुर्गों को मिलेगा। बुढ़ापे की वजह से कई बार फिंगरप्रिंट में समस्या आती है, लेकिन अब चेहरे से पहचान का फीचर उनके लिए आसान होगा। इन फीचर की सुविधा उन लोगों को मिलेगी, जिनके बायोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन में फिंगरप्रिंट की वजह से दिक्कतें आती है। कठिन मेहनत करने वाले लोगों के भी उंगली के निशान में समस्या आ जाती है।

एनरोलमेंट सेंटर जाने की जरूरत नहीं

इस सुविधा का फायदा उठाने के लिए आपको एनरोलमेंट सेंटर नहीं जाना होगा। अथॉरिटी अपने डाटाबेस से आपका फेस फोटो लेकर एक्‍टिवेट करेगा। जिसके बाद आपके चेहरे से भी आपके आधार कार्ड को वेरिफाई कर लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें:- ... तो फेसबुक अकाउंट बनाने के लिए भी ज़रूरी होगा आधार

अब तक 14 करोड़ पैन कार्ड और 70 करोड़ बैंक खातों को जोड़ा गया आधार से

Tags:    aadhar UIDAI 
Share it
Share it
Share it
Top