बागपत में दिनदहाड़े पीएसी के दो जवानों समेत 5 की हत्या 

बागपत में दिनदहाड़े पीएसी के दो जवानों समेत 5 की हत्या बागपत में 5 लोगों की हत्या के बाद मौके पर तैनात पुलिस।

दोघट (बागपत)। पश्चिमी यूपी के बागपत जिले में दिनदहाड़े पीएसी के दो जवानों समेत पांच लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। जिन जवानों की हत्या की गई वो मृतक परिवार की सुरक्षा में तैनात थे। बागपत पुलिस के मामला आपसी रंजिश का है, जिसमें पहले ही दो हत्याएं हो चुकी हैं।

आईजी जोन मेरठ अजय आनंद ने बताया, “जिस घर में हत्या की यह सनसनीखेज वारदात हुई है, उस घर में पहले भी जमीनी रंजिश में दो की हत्या की जा चुकी है। पूर्व में हुई हत्याओं के बाद घर में सुरक्षा के लिए पीएसी के दो जवान तैनात किये गये थे। हथियारबंद बदमाशों ने जिस तरह घर पर धावा बोला, पीएसी के जवानों को संभलने का भी मौका नहीं मिल पाया।” दिनदहाड़े पांच हत्याओं से गाँव में सनसनी फैल गयी। मौके पर पहुंची पुलिस को गांव वालों की नाराजगी का सामना करना पड़ा।

पीएसी का मृतक जवान।

जनपद के थाना दोघट क्षेत्रों के गाँव गांगनौली में एक लाख का इनामी रहा प्रमोद (मृतक) व परिक्षित पक्ष में रंजिश चली आ रही है, जिसमें कई हत्याएं भी हो चुकी हैं। पुरानी रंजिश के चलते परिक्षित परिवार के तीन लोगों के अलावा परिवार की सुरक्षा में लगे दो पुलिसकर्मियों सहित पांच लोगों की गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई। हत्या के पीछे प्रमोद के भाई प्रवीण का नाम प्रकाश में आ रहा है। बताया जा रहा है कि सोमवार की दोपहर आरोपी प्रवीण आधुनिक हथियारों के साथ अपने आध दर्जन साथियों को लेकर परिक्षित के घर पहुंचा और वहां पहुंचकर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी जिसमें सविता की प्रीति, ससुर मांगेराम तथा परिवार की सुरक्षा में लगे एक पीएसी के हेड कांस्टेबल राकेश शर्मा तथा कांस्टेबल विजय कुमार की मौके पर ही मौत हो गई जबकि अस्पताल ले जाते समय सविता ने भी दम तोड़ दिया। घटना की सूचना मिलने पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स के साथ पुलिस अफसर मौके पर पहुंचे तथा घटना की जानकारी की। आईजी आनंद कुमार तथा डीआईजी लक्ष्मी सिंह ने भी घटनास्थल का मुआयना किया। वहीं, थाना रमाला क्षेत्रा के गांव किशनपुर बिराल तथा गाँव बुढ़पुर में दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

पुलिस अधिकारियों के सामने परिवार का बच्चा।

Share it
Top