‘बिग बॉस’ के बाद आगे सोच समझकर कदम रखेंगे मनवीर गुर्जर

‘बिग बॉस’ के बाद आगे सोच समझकर कदम रखेंगे मनवीर गुर्जरमनवीर को कल रात ‘बिग बॉस’ के 10वें सीजन का विजेता घोषित किया गया।

मुंबई (भाषा)। रियलिटी शो ‘बिग बॉस' में जीत हासिल करने के बाद मनवीर गुर्जर के सामने कई विकल्प मौजूद हैं लेकिन उनका कहना है कि उन्हें कोई जल्दी नहीं हैं और कोई भी कदम उठाने से पहले वह एक ‘अच्छे अवसर' का इंतजार करेंगे।

ये भी पढ़ेः मनवीर गुर्जर ने जीता ‘बिग बॉस 10’ का खिताब

मनवीर को कल रात ‘बिग बॉस' के 10वें सीजन का विजेता घोषित किया गया। उन्होंने बानी जज और लोपामुद्रा राउत को अंतिम दौर में मात देकर यह खिताब हासिल किया। भविष्य में फिल्म या टीवी करने संबंधी सवाल पर मनवीर ने कहा कि अभी इस पर निर्णय लेना है लेकिन इसके लिए वह किसी के पास काम मांगने नहीं जाएंगे।

मैं पहले सभी एपिसोड देखूंगा, देखूंगा कि मैं किसमें अच्छा हूं। मैं वह अच्छी आदतें अपनाऊंगा जो लोगों को मुझमें पसंद आई और फिर तय करुंगा कि आगे क्या करना है।
मनवीर गुर्जर, बिग बॉस 10 विजेता

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने बानी से बात की थी, उन्होंने बताया कि वह ‘खतरों के खिलाड़ी' के लिए गई थीं लेकिन वह टास्क सही तरीके से नहीं कर पाईं। मैं नहीं चाहता कि मेरे साथ भी ऐसा हो। मुझे जो भी अच्छे मौके मिलेंगे, मैं उनका फायदा उठाऊंगा और आगे बढूंगा।''

मनवीर को ‘बिग बॉस’ का खिताब जीतने के साथ ही 40 लाख रुपए की नकद राशि भी इनाम में मिली और उनके पिता ने इस राशि का 50 प्रतिशत हिस्सा सलमान खान के चैरिटी फाउंडेशन ‘बीइंग ह्यूमन’ का देने का संकल्प जाहिर किया है।

नोएडा के रहने वाले मनवीर ने कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है कि उनकी पहली आय का कुछ हिस्सा वह परमार्थ कार्य के लिए दे रहे हैं। एक आम आदमी होने के बावजूद शो का विजेता बनाने के लिए उन्होंने जनता का शुक्रिया भी अदा किया। हालांकि मनवीर ने कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वह शो जीत पाएंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे पहले दो सप्ताह में लगा कि यह शो मेरे मतलब का नहीं है। कुछ टास्क थे जिनके बारे में मुझे लगा कि मैं नहीं कर पाऊंगा। लेकिन धीरे-धीरे हर चीज का रास्ता दिखने लगा, जैसे स्थिति को आंकने के बाद अपनी प्रतिक्रिया देना। मैंने घर में कभी किसी की नकल नहीं की। मैंने अपना खेल ईमानदारी से खेला, सबका मनोरंजन किया और शो में अपना शत प्रतिशत दिया।''

शो में अपने सबसे अच्छे दोस्त रहे मनु पंजाबी के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘मुझे कभी नहीं लगा कि मैंने उनका इस्तेमाल किया, जब भी उन्होंने कुछ कहा, मैंने सुना। मैंने खेल अपने दिल से खेला दिमाग से नहीं।'' उन्होंने कहा कि इस शो के बाद वह खुद को पहले से कहीं अधिक मानसिक रुप से मजबूत महसूस कर रहे हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top