बाराबंकी : खर्च हुए कम दिखाया ज्यादा, हाकिम की नज़रें हुई टेढ़ी तो घेरे में आ गए प्रधान और सचिव  

Virendra ShuklaVirendra Shukla   9 May 2017 3:48 PM GMT

बाराबंकी : खर्च हुए कम दिखाया ज्यादा, हाकिम की नज़रें हुई टेढ़ी तो घेरे में आ गए प्रधान और सचिव   शौचालय मरम्मत में 20,100 रुपए व्यय दिखाए गए, जबकि 10,000 रुपए ही खर्च हुआ था।

वीरेंद्र शुक्ला, कम्युनिटी जर्नलिस्ट

बाराबंकी। ब्लॉक सूरतगंज के ग्राम पंचायत सरसंडा में निर्माण कार्यों में अनियमितता को लेकर ग्राम प्रधान को डीएम ने नोटिस जारी कर दिया है। लगभग 39,000 के घपले का मामला सामने आया है। इसका एक सप्ताह में जवाब देने को कहा गया है। जवाब संतोषजनक न मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

ग्राम पंचायत के सदस्यों ने इसकी शिकायत की थी और मामले की जांच एडीपीआरओ ने की थी। शौचालय मरम्मत कार्य में 25000 रुपए व्यय किये गए, जो अनियमित पाए गए। उसके लिए प्रधान और सचिव मानवेन्द्र शर्मा दोषी पाए गए। डीएम अखिलेश तिवारी ने निर्देश दिया है कि एक सप्ताह में जवाब न मिलने या जवाब संतोषजनक न होने पर यूपी पंचायत राज अधिनियम के तहत कार्रवाई होगी।

ये भी पढ़ें- मेरठ में 150 घंटे में बनेंगे 20 हज़ार शौचालय, डीएम बी चंद्रकला ने शुरू किया अभियान

बताते चले प्राथमिक विद्यालय जमका में शौचालय मरम्मत में 20,100 रुपए व्यय दिखाए गए, जबकि 10,000 रुपए ही खर्च हुआ था। विद्यालय में मिट्टी पटाई कार्य में 25,200 रुपए खर्च दिखाया गया, जबकि सही व्यय 21200 रुपए था। इसमें प्रधान और सचिव लिप्त पाए गए। ग्राम पंचायत की नियमित बैठक होने के सम्बन्ध में प्रधान कोई अभिलेख नहीं दिखा सके। इन्हें जवाब देने का अंतिम अवसर दिया गया है। डीपीआरओ के नोटिस भेजने पर उनके द्वारा कोई जवाब नहीं दिया गया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top