तटबंधों की सुरक्षा एवं बाढ़ बचाव कार्यों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं - धर्मपाल सिंह 

तटबंधों की सुरक्षा एवं बाढ़ बचाव कार्यों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं - धर्मपाल सिंह धर्मपाल सिंह 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सिंचाई, (यांत्रिक) मंत्री धर्मपाल सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिये है कि बाढ़ प्रभावित जनपदों/क्षेत्रों की लगातार निगरानी करते रहें। उन्होंने कहा कि किसी भी कीमत पर जनधन/पशुधन की हानि न होने पाये। सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिया सभी संवेदनशील बांधों पर नजर रखे तथा जहां कभी भी कटान होने की सम्भावना को वहां पर तत्काल सभी आवश्यक सुविधाओं की व्यवस्था सुनिश्चित करा लिया जायें।

ये भी पढ़ें-यूपी के इस गाँव में बनते हैं मनीष मल्होत्रा के डिज़ाइनर कपड़ें, जिसे पहनता है पूरा बॉलीवुड

उन्होंने कहा कि बाढ़ सुरक्षात्मक कार्यों एवं तटबंधों की सुरक्षा में किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री का स्पष्ट निर्देश है कि जनता के हितों से खिलवाड़ एवं बाढ़ बचाव कार्यों में लापरवाही दिखाने वाले के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाये।

सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों की समीक्षा

ये भी पढ़ें- आईएसआईएस से प्रभावित आतंकियों को कोर्ट ने 24 अगस्त तक भेजा जेल


प्रमुख सचिव सिंचाई सुरेश चन्द्रा ने सिंचाई मंत्री को अवगत कराया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों/जनपदों में बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य कराये जा रहे है तथा सभी तटबंध सुरक्षित हैं। उन्होंने बताया कि बड़ी गण्डक, घाघरा, राप्ती खतरे के निशान से नीचे बह रही है तथा एल्गिन ब्रिज चरसरी में घाघरा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है परन्तु तटबंध सुरक्षित है। श्री चन्द्रा ने सिंचाई मंत्री को अवगत कराया कि कही से भी कोई जनधन/पशुहानि की सूचना प्राप्त नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि सभी विभागीय अधिकारी अपने अपने क्षेत्रों पर नजर रखे हुए है तथा प्रतिदिन शासन को रिपोर्ट उपलब्ध कराते रहते हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिएयहांक्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top