उत्तर प्रदेश नगर निकाय चुनाव में भाजपा की प्रतिष्ठा दांव पर : सुबोध श्रीवास्तव 

Ashwani DwivediAshwani Dwivedi   24 Nov 2017 1:37 PM GMT

उत्तर प्रदेश नगर निकाय चुनाव में भाजपा की प्रतिष्ठा दांव पर : सुबोध श्रीवास्तव कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश के मीडिया प्रभारी सुबोध श्रीवास्तव।

अश्विनी कुमार द्विवेदी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के नगर निगम चुनाव को लेकर सभी पार्टियां बेहद गंभीर है सभी राजनीतिक दल अपनी अपनी जीत का दावा कर रहे हैं। इस पर कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश के प्रचार व प्रसार विभाग के चेयरमैन सुबोध श्रीवास्तव ने इस पर अपनी राय दी। सुबोध श्रीवास्तव उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव प्रबंधन के प्रभारी भी हैं। उत्तर प्रदेश के नगर निगम चुनाव के दूसरे चरण के लिए मतदान 26 नवंबर को होंगे।

1. नगर निकाय चुनाव में कांग्रेस के कितने प्रत्याशी लड़ रहे है?

160 नगर पालिका और 268 नगर पंचायत अध्यक्ष सहित सैकड़ों की संख्या में पार्षद लड़ रहे है।

2. अबकी निकाय चुनाव में कांग्रेस पहली बार काफी मेहनत कर रही है क्या कारण है?

स्थानीय निकाय चुनाव में मौका मिलता है जब हम सीधे जनता से कनेक्ट होते है जनता की समस्या के बारे में समाधान प्रस्तुत कर सकते है,निकायों के अब तक जो बुरा हाल रहा है उसको लेकर हम लोग चुनाव मैदान में है और बहुत जोर शोर से चुनाव मैदान में है।

3. क्या नगर निगम चुनाव परिणाम का असर आगामी लोकसभा चुनाव पर भी पड़ेगा?

नगर निकाय चुनाव स्थानीय मुद्दों को लेकर होते है बहुत बड़ा संकेत तो इससे हम नही लेते किन्तु इस बार प्रदेश में भारी बहुमत वाली भाजपा सरकार है, मुख्यमंत्री सब जगह प्रचार कर रहे है मंत्रियों की पूरी टीम लगी हुई है जगह जगह प्रचार कर रहे है तो जरूर इनकी प्रतिष्ठा दांव में है अगर जनता इनके खिलाफ मतदान करती है और इनकी पकड़ स्थानीय निकाय में कमजोर होती है तो यह संकेत जरूर मिलेगा की प्रदेश की जनता इनसे ऊब गई है और अब वह विकल्प तलाश रही है।

4. पिछले चुनाव में कई पार्टियों ने भाजपा पर ईवीएम से छेड़छाड़ का आरोप लगाया था इस पर आप क्या कहेंगे?

पहले चरण में मेरठ और कानपुर से यह सूचना मिली थी पर वो पुष्टि नहीं हुई।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top