नाबार्ड के अध्यक्ष डॉ हर्ष कुमार भनवाला ने सीएम योगी से की मुलाक़ात, ग्रामीण विकास पर चर्चा

नाबार्ड के अध्यक्ष डॉ हर्ष कुमार भनवाला ने सीएम योगी से की मुलाक़ात, ग्रामीण विकास पर चर्चामुख्यमंत्री से शिष्टाचार भेंट करते नाबार्ड अध्यक्ष डॉ हर्ष कुमार भनवाला।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में विकास के लिए नाबार्ड और यूपी सरकार मिलकर नई कोशिशें शुरु की है। राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) के अध्यक्ष ने लखनऊ में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। इस दौरान की मुद्दों पर विस्तार से चर्चा हुई।

नाबार्ड के अध्यक्ष,डॉ हर्ष कुमार भनवाला ने नाबार्ड के अन्य अधिकारियों के साथ शुक्रवार को मुख्यमंत्री और कृषि मंत्री और वित्त मंत्री से मुलाकात की। उनके साथ आर अमलोरपावनाथन, उप प्रबंध निदेशक, नाबार्ड , एके पंडा,मुख्य महाप्रबंधक समेत कई वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल थे।

डॉ भनवाला ने ग्रामीण आधारभूत संरचना विकास के लिए नाबार्ड के आर आई डी एफ, लंबित दीर्घ सिचाई योजनाओं के लिए एलटीआईएफ , सूक्ष्म सिचाई , भंडारण संरचना विकास निधि अंतर्गत उपलब्ध वित्तीय सुविधाओं के बारे में मुख्यमंत्री का ध्यान आकर्षित कराया । डॉ भनवाला ने सहकारी ऋण प्रणाली को सुदृढ़ करने के लिए नाबार्ड के विभिन्न कार्यक्रमों का जिक्र भी किया।

उन्होंने ने राज्य में कृषि तथा अन्य उपयोग के लिए पानी की उपलब्धता सुनिश्चित करने, जलवायु परिवर्तन के ज्वलनशील मुद्दे तथा कृषक उत्पादक कंपनी के लिए व्यापक राज्य नीति के संबंध में भी चर्चा की।

ये भी पढ़ें-दुद्धी में नाबार्ड टीम ने की कनहर सिंचाई परियोजना निर्माण की समीक्षा

मुख्यमंत्री ने नाबार्ड से राज्य के कृषि और ग्रामीण क्षेत्र के संपूर्ण विकास के लिए भरपूर सहयोग करने का आह्वान किया तथा आशा व्यक्त की कि कृषि और ग्रामीण क्षेत्र के समुचित विकास से राज्य प्रगति पाठ पर अग्रसित होगा। उन्होंने संबन्धित विभागों को समुचित कारवाई करने को भी अनुदेशित किया।

बैठक लेते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

डॉ हर्ष कुमार भनवाला ने कल सुबह कैबिनेट मंत्री कृषि श्री सूर्य प्रताप शाही से भी मुलाक़ात की और कृषक आय को दोगुना करने में कृषक उत्पादक कंपनी की महती भूमिका पर विस्तृत चर्चा की।

अपने दौरे के पहले दिन डॉ भनवाला ,अध्यक्ष नाबार्ड ने वाणिज्यिक बैंक, ग्रामीण बैंक और सहकारी बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाक़ात की। उन्होंने कृषि क्षेत्र में वृहत पूंजी निवेश की संभावनाओं , बैंकिंग डिजिटाइजेशन, डिजिटल बैंकिंग साक्षारता , व्यवसाय वृद्धि जैसे मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की।

ये भी पढ़ें-बदहाल सिंचाई व्यवस्था को सुधारने के लिए नाबार्ड बना सरकार की उम्मीद

डॉ भनवाला के दो दिवसीय दौरे का समापन नाबार्ड क्षेत्रीय कार्यालय में नाबार्ड स्टाफ को दिये गए सम्बोधन से हुआ, जहां उन्होंने सभी स्टाफ सदस्यों को राज्य के कृषि एवं ग्रामीण विकास के लिए तत्परता के साथ काम करने का आह्वान किया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top