नसीमुद्दीन की अकूत सम्पत्तियों की जांच होनी चाहिए: अरुण द्विवेदी

Ashwani DwivediAshwani Dwivedi   10 May 2017 7:47 PM GMT

नसीमुद्दीन की अकूत सम्पत्तियों की जांच होनी चाहिए: अरुण द्विवेदीनसीमुद्दीन सिद्दीकी।

लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में नसीमुद्दीन सिद्दीकी और उनके बेटे अफजल सिद्दीकी को पार्टी से निष्कासित कर दिया है।

इस मामले में बसपा नेता अरुण द्विवेदी ने बहन जी को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा, “यह काम तो बहुत पहले हो जाना चाहिये था। बहन जी का कदम स्वागत योग्य है। अपने कार्यकाल में नसीमुद्दीन ने प्रदेश के मुसलमानो कें साथ न केवल दुर्व्यवहार किया बल्कि पुरे प्रदेश से मुस्लिमनेतृत्व को आगे आने से भी रोक दिया। मुसलमानों का सबसे ज्यादा नुकसान नसीम ने किया। इसके साथ ही बीएसपी को गर्त में धकेल दिया।”

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इसके साथ ही अरुण द्यिवेदी ने बताया, “ बहन जी को गुमराह करने का काम नसीम ने किया है। नासिमुद्दीन की हकीकत सामने आने के बाद बहन जी इन्हें पार्टी के बाहर का रास्ता दिखा दिया। नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने अपने कार्यकाल के दौरान अकूत संपत्तियां अर्जित की हैं। इनके द्वारा गलत तरीके से अर्जित की हुई सम्पत्तियो की भी जांच होनी चाहिए ।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top