सरकारी डॉक्टरों के तबादलों में अब नहीं हो सकेगा खेल, ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत होगा ट्रांसफर

सरकारी डॉक्टरों के तबादलों में अब नहीं हो सकेगा खेल, ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत होगा ट्रांसफरचिकित्सा व स्वास्थ्य सचिव आलोक कुमार ने इस संबंध में शासनादेश में जारी कर दिया गया

लखनऊ। अब पीएमएस (प्रोविजनल मेडिकल सर्विस) कैडर के चिकित्सा अधिकारी व सर्जन के ट्रांसफर प्रोसेस के अन्तर्गत अपने आवेदन पत्र मानव सम्पदा सॉफ्टवेयर के माध्यम से पेश करेंगे। चिकित्सा व स्वास्थ्य सचिव आलोक कुमार ने इस संबंध में शासनादेश में जारी कर दिया गया।

हालांकि इसमें यह भी कहा गया है कि शासन के संज्ञान में यह तथ्य लाया गया है कि अभी भी जनपद स्तर व महानिदेशालय स्तर पर सम्बंधित प्रक्रिया के सम्बन्ध में स्थिति पूरी तरह से साफ नहीं है जिसके कारण ट्रांसफर के आवेदन व निस्तारण वगैरह में कठिनाई हो रही है। राज्य सरकार ने 25 जुलाई को शासनादेश जारी करके इस स्थिति को स्पष्ट कर दिया है। दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि चिकित्सक द्वारा स्थानान्तरण के सम्बंध में आवेदन पत्र ह्यूमन रिसोर्स सॉफ्टवेयर पर ऑनलाइन भरे जाएंगे व साथ ही अपने रिपोर्टिंग अधिकारी का चयन किया जाएगा।

पढ़ें झोलाछाप डॉक्टर मरीजों की ज़िंदगी से कर रहे खिलवाड़

इसके उपरान्त रिपोर्टिंग अधिकारी द्वारा आवेदन पत्र की सहमति की दशा में अग्रसारित किया जाएगा और असहमति की दशा में अनिवार्य रूप से कारणों को बताते हुए आवेदन पत्र को निरस्त कर दिया जाएगा। सहमति अथवा असहमति दर्ज करने की प्रक्रिया रिपोर्टिंग अधिकारियों द्वारा ह्यूमन रिसोर्स सॉफ्टवेयर पर ऑनलाइन की जाएगी।

इस तरह पूरी होगी प्रक्रिया

शासनादेश में यह भी कहा गया है कि विभिन्न स्तरों से प्राप्त समस्त आवेदन रिपोर्टिंग अधिकारियों के द्वारा महानिदेशालय, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य एवं महानिदेशालय, परिवार कल्याण को अग्रसारित किए जाएंगे। महानिदेशालय, चिकित्सा व स्वास्थ्य तथा महानिदेशालय, परिवार कल्याण द्वारा इस प्रकार से प्राप्त होने वाले सभी आवेदनों को एकीकृत किया जाएगा।

पढ़ें यूपी के झोलाछाप डॉक्टर : बीमारी कोई भी हो सबसे पहले चढ़ाते हैं ग्लूकोज

इसके उपरान्त इसका प्रिन्ट आउट लेकर सम्बंधित चिकित्सा अधिकारी की पत्रावली पर पूर्व की भांति समस्त प्रक्रिया का पालन करते हुए आवेदन संस्तुति सहित आवेदन को अग्रसारित करने अथवा निरस्त करने सम्बंधी निर्णय पत्रावली पर लिया जाएगा। इस निर्णय को सॉफ्टवेयर में यूजर आईडी एवं पासवर्ड का प्रयोग कर लॉग-इन करके अपलोड किया जाएगा। शासन स्तर पर प्राप्त समस्त आवेदन पत्रों को संकलित करके सक्षम स्तर से अनुमोदन प्राप्त किया जाएगा। इसके बाद स्थानान्तरण आदेशों को साफ्टवेयर के माध्यम से ऑनलाइन अपडेट किया जाएगा व ऑनलाइन ही स्थानान्तरण आदेश जारी किए जाएंगे।

नियमो‍ं के सख्ती के पालन के निर्देश

आखिर में दोनों कार्यालयाध्यक्षों को उनके मोबाइल नम्बर व स्थानान्तरित अधिकारियों को भी उनके मोबाइल नम्बर पर सूचना दे दी जाएगी। इसी प्रकार जनपद के अन्तर्गत मुख्य चिकित्सा अधिकारियों द्वारा विभिन्न चिकित्सीय इकाइयों में तैनात किए जाने वाले चिकित्सकों से सम्बंधित आदेश भी मानव सम्पदा सॉफ्टवेयर के माध्यम से ही जारी किए जा सकेंगे। किसी भी जनपद में मैनुअल आदेश मान्य नहीं होंगे और ऐसा करने वाले अधिकारियों के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई की जा सकती है। मानव सम्पदा सॉफ्टवेयर के माध्यम से ही ऑनलाइन स्थानान्तरण किए जाएंगे इससे अन्यथा कोई भी स्थानान्तरण आदेश मान्य नहीं होगा। सचिव ने इन दिशा-निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए।

Share it
Share it
Share it
Top