भारतीय सेना प्रमुख ने दी आतंकियों को चेतावनी, सरहद पार की तो जमीन में ढाई फीट नीचे दफन कर देंगे

भारतीय सेना प्रमुख ने दी आतंकियों को चेतावनी, सरहद पार की तो जमीन में ढाई फीट नीचे दफन कर देंगेआर्मी चीफ बिपिन रावत।

नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि पिछले वर्ष नियंत्रण रेखा के पार जाकर की गई सर्जिकल स्ट्राइक पाकिस्तान के लिए एक संदेश था, और उन्होंने आवश्यकता पड़ने पर और भी इस तरह की सर्जिकल स्ट्राइक का संकेत दिया।

सेना प्रमुख ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा, "आतंकवादी तैयार बैठे हैं और हम भी उनके लिए इस तरफ तैयार बैठे है। हम उन्हें ढाई फुट जमीन के नीचे भेजते रहेंगे। सर्जिकल स्ट्राइक से एक संदेश हमने दिया था। अगर जरूरत पड़ी तो फिर एक बार सर्जिकल स्ट्राइक करेंगे।" उन्होंने कहा, "हम किसी भी घुसपैठ को रोकने के लिए तैयार हैं। आतंकवादी सीमा के उस पार तैयार हैं और हम सीमा के इस तरफ उनकी खातिरदारी के लिए तैयार हैं। हम उनका स्वागत करेंगे और उन्हें उनकी कब्र में दफन कर देंगे।"

ये भी पढ़ें:- सीबीआई के पास भी कोई जादू की छड़ी थोड़े है... 1100 से ज्यादा केस हैं पेंडिंग

इस साल अब तक भारतीय सेना 150 के करीब आतंकियों को जमीन के ढाई फीट नीचे पहुंचा चुकी है। उरी हमले के बाद 29 सितंबर 2016 को भारत ने पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकियों के कैंप को तबाह किया थाद्ध सर्जिकल स्ट्राइक के एक साल पूरा होने से ठीक पहले सेना प्रमुख ने फिर सर्जिकल स्टाइक की चेतावनी दी।

ये भी पढ़ें:- ट्रैफिक पुलिस की नौकरी : ना तो खाने का ठिकाना, ना सोने का वक्त

29 सितंबर 2016 को भारत ने सर्जिकल स्ट्राइक की थी। उरी हमले के बाद भारत की ओर से ये जवाबी कार्रवाई थी। सर्जिकल स्ट्राइक में भारतीय सेना ने एलओसी पर आतंकियों के सात ठिकानों को निशाना बनाया था, और इस ऑपरेशन में 30 से ज्यादा आतंकियों को ढेर किया था।

ये भी पढ़ें:- देश में सुरक्षा का हाल : 1 VIP की सुरक्षा में 3 और 663 आम लोगों पर 1 पुलिसकर्मी तैनात

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top