देश में सुरक्षा का हाल : 1 VIP की सुरक्षा में 3 और 663 आम लोगों पर 1 पुलिसकर्मी तैनात

देश में सुरक्षा का हाल : 1 VIP की सुरक्षा में 3 और 663 आम लोगों पर 1 पुलिसकर्मी तैनातप्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली। सरकार का वीआईपी कल्चर को खत्म करने के दावों की पोल साफ खुलती नजर आ रही है। सरकार की तमाम कोशिशों के बाद भी वीआईपी कल्चर खत्म नहीं हो रहा है। ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च ऐंड डवलपमेंट (बीपीआरऐंडडी) और गृह मंत्रालय की ओर से जारी हालिया आंकड़ों के अनुसार, देश में कुल 20,000 वीआईपी ऐसे हैं जिनकी सुरक्षा में हर वक्त तीन पुलिसकर्मी तैनात हैं। वहीं अगर आम आदमी को सुरक्षा देने की बात करें तो देश में प्रति 663 व्यक्ति पर सिर्फ एक ही पुलिसकर्मी तैनात है।

देश में पुलिसकर्मियों की भारी कमी

गृह मंत्रालय के ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च एंड डेवेलपमेंट के आंकड़ों के अनुसार 20,000 वीआईपी लोगों पर औसत तीन पुलिसकर्मी तैनात हैं, बकि आम आदमी की हिफाजत के पुख्ता इंतजाम नहीं हैं, इसकी बड़ी वजह है पुलिसकर्मियों की भारी कमी। आंकड़ों के अनुसार मौजूदा समय में देश में कुल 19.26 लाख पुलिसकर्मी हैं, जिसमें 56944 पुलिसकर्मी 20828 वीआईपी लोगों की सुरक्षा में तैनात हैं। ऐसे में इन आंकड़ों से आप आम आदमी और वीआईपी के बीच के भारी मतभेद का अंदाजा लगा सकते हैं।

ये भी पढ़ें:- ट्रैफिक पुलिस की नौकरी : ना तो खाने का ठिकाना, ना सोने का वक्त

आम आदमी के लिए दुनिया में सबसे कम पुलिसकर्मी भारत में

देश के कुल 29 राज्यों और 6 केंद्रशासित राज्यों में वीआईपी लोगों की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों का प्रतिशत निकलें तो यह 2.73 फीसदी है। यहां दिलचस्प बात यह भी है कि लक्षद्वीप देश का एकलौता ऐसा राज्य है जहां एक भी वीआईपी को पुलिस सुरक्षा मुहैया नहीं कराई गई है। वहीं दुनियाभर के देशों से इन आंकड़ों की तुलना की जाए तो भारत विश्व का एकमात्र ऐसा देश है जहां आम जनता के लिए सबसे कम पुलिसकर्मी हैं। भारत में 663 व्यक्तियों पर सिर्फ एक पुलिसकर्मी है।

ये भी पढ़ें:- यूपी पुलिस का सिंघम अवतार , 6 महीने में 420 मुठभेड़, 15 इनामी ढेर, 868 कुख्यात कैद

बिहार में सबसे अधिक वीआईपी सुरक्षा

आंकड़ों का विश्लेषण करें तो भारत में सबसे ज्यादा वीआईपी सुरक्षा उत्तरी और पूर्वी भारत के लोगों को मुहैया कराई गई है। अगर आम आदमी की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों की बात करें तो सबसे खराब स्थिति बिहार की है। यहां 3200 वीआईपी लोगों के लिए 6248 पुलिसकर्मी तैनात हैं। वहीं पश्चिम बंगाल में 2207 वीआईपी लोगों में 4233 पुलिसकर्मी तैनात हैं। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में वीआईपी सुरक्षा के नियमों के अनुसार सिर्फ 501 पुलिसकर्मी ही वीआईपी लोगों की सुरक्षा में तैनात किए जा सकते हैं।

ये भी पढ़ें- यूपी पुलिस का ‘अस्तित्व का सवाल’ कार्यक्रम हुआ शुरू, डिजिटल अपराध पर है पहला सेशन

ये भी पढ़ें:- बैंक मित्र बनकर आप भी कमा सकते हैं पैसा, ऐसे बने बैंक मित्र

ये भी पढ़ें:- कर्ज़माफी में दो रुपये के प्रमाण पत्र का गणित समझिए

ये भी पढ़ें:- सावधान : कहीं आप चाय की जगह तेजाब तो नहीं पी रहें

ये भी पढ़ें:- पैसे दीजिए प्रेम पत्र लिखवाइए : बेंगलुरु के इंजीनियर ने ‘प्यार भरा’ खत लिखने को बनाया व्यवसाय

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top