इस कारण से परेशान देशों की सूची में भारत पहले पायदान पर 

इस कारण से परेशान देशों की सूची में भारत पहले पायदान पर फोन डायरेक्टरी ऐप ट्रयूकॉलर ने किसा एक सर्वेक्षण

नई दिल्ली (भाषा)। बैंकों से कर्ज और कार्ड की पेशकश से लेकर ग्राहकों को फोन कनेक्शन बदलने के लिये सस्ते डेटा की जानकारी देने वाली फोन कॉलों से दुनिया भर के लोग परेशान हैं। और, इसी लिस्ट में हम और आप भी आते हैं। आम भारतीय दूरसंचार ग्राहक की परेशानी का आलम यह है कि इस बाबत फेहरिस्त में वह टॉप पर आया है। जी हां, इस तरह की कॉल से परेशान देशों की सूची में भारत पहले स्थान पर है। एक सर्वे में यह निष्कर्ष निकाला गया है।

फोन डायरेक्टरी ऐप “truecaller” के एक सर्वेक्षण के अनुसार इस तरह की अवांछित या स्पैम कॉल से प्रभावित देशों की सूची में भारत पहले स्थान पर है। इसके अनुसार भारत में औसतन हर मोबाइल धारक को महीने में 22 से अधिक अवांछित कॉल मिलती हैं।

इस मामले में भारत का स्थान अमेरिका, ब्राजील, चिली व दक्षिण अफ्रीका आदि देशों से ऊपर है। अमेरिका व ब्राजील में दूरसंचार ग्राहक को औसतन हर महीने इस तरह की 20 फोन कॉल आती हैं जिनमें बैंकों की ओर से कार्ड या कर्ज की पेशकश की जाती है या दूसरी दूरसंचार कंपनियों के प्रति
निधि सस्ती काल दरों की पेशकश करते हुए लुभाते हैं।

सर्वेक्षण के अनुसार भारत में दूरसंचार कंपनियां और दूरसंचार मार्केटिंग कंपनियां कुल अवांछित कॉल में क्रमश: 54 प्रतिशत और 13 प्रतिशत हिस्सेदारी निभाती हैं।

ये भी पढ़ें:- लड़कियों की सुरक्षा के लिए देवरिया पुलिस की शानदार पहल

आधा हिंदुस्तान बाढ़ की चपेट में, अबतक 140 लोगों की मौत

हर्बल घोल की गंध से खेतों के पास नहीं फटकेंगी नीलगाय, ये 10 तरीके भी आजमा सकते हैं किसान

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top