यह है दुनिया का सबसे आलसी देश, इस मामले में तो भारत भी पीछे नहीं

यह है दुनिया का सबसे आलसी देश, इस मामले में तो भारत भी पीछे नहींआलसियों की लिस्ट में भारत भी।

लखनऊ। अमेरिकी की स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी के एक रिसर्च ने दुनिया का सबसे आलसी देश ढूंढ लिया है। रिसर्च के अनुसार हांगकांग जहां विश्व का सबसे एक्टिव देश है तो वहीं इंडोनेशिया सबसे आलसी देश है। हांगकांग के लोग प्रतिदिन औसतन 6880 कदम चलते हैं वहीं इंडोनेशिया के लोग महज 3513 कदम ही चलते हैं।

46 देशों पर किए गए सर्वे में भारत को भी दुनिया के सबसे आलसी देशों की सूची में डाला गया है। इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार भारत इन देशों में 39वीं रैंकिंग पर है। भारत में लोग औसतन एक दिन में 4297 कदम चलते हैं। हर दिन सबसे ज्यादा चलने में हांगकांग के लोग हैं। हांगकांग में औसत एक आदमी हर दिन 6880 कदम चलता है। दूसरी तरफ़ इंडोनेशिया 3513 कदम के साथ लिस्ट में सबसे नीचे रहा, जबकि जानकार बताते हैं कि सेहतमंद लोगों को कम से कम 10000 कदम हर दिन चलना चाहिए।

सर्वे में कुछ ऐसी बातें में भी सामने आई हैं जिनसे मोटापा दूर करने में मदद मिल मिलेगी। यह अध्ययन ''नेचर'' जर्नल में प्रकाशित किया गया और इसके शोधकर्ताओं ने माना कि इसके परिणामों से लोगों के स्वास्थ्य को सुधारने की दिशा में काफी मदद मिलेगी। कई देशों में मोटापे के पीछे लोगों की एक्टिविटी (दैनिक गतिविधियों) में असमानता भी वजह रही है। एक्टिविटी में असमानता, आर्थिक असमानता की तरह है। एक्टिविटी में जितनी ज्यादा असमानता, उतना ज्यादा मोटापा होगा। रिसर्च टीम के एक सदस्य टिम अल्थॉफ ने कहा, ''उदाहरण के तौर पर, स्वीडन में एक्टिविटी में ज्यादा हिस्सा लेने वाले और कम महत्व देने वालों के बीच का अंतर काफी कम है। यहां मोटापे का स्तर भी कम है।''

ये भी पढ़ें-वनवासियों को मोटापा, मधुमेह और ब्लड प्रेशर नहीं, क्यों?

कैसे किया सर्वे

ज्यादातर स्मार्टफ़ोन में एक्सेलेरोमीटर की सुविधा मौजूद है जिससे यूजर के कदम गिने जा सकते हैं। रिसर्च टीम ने करीब 7 लाख लोगों के डेटा इकट्ठा किए जो अर्गस एक्टिविटी मॉनिटरिंग ऐप का इस्तेमाल करते थे। रिचर्स टीम में शामिल बायो-इंजीनियरिंग के प्रोफ़ेसर स्कॉट डेल्प ने कहा, ''यह अध्ययन मानव विकास पर किए गए किसी भी रिसर्च के मुकाबले 1000 गुना बड़ा है।''अब तक कई ऐसे हेल्थ सर्वे हुए हैं, लेकिन इस नए अध्ययन में ज्यादा देशों से डेटा जुटाया गया है। इसमें न सिर्फ लोगों की गतिविधियों पर नजर रखी गई बल्कि उनके व्यवहार और दूसरे विषयों को भी परखा गया।

ये भी पढ़ें-इस कारण से परेशान देशों की सूची में भारत पहले पायदान पर

अमरीका और मैक्सिको दोनों देशों में औसतन एक बराबर कदम दर्ज किए गए, लेकिन अमरीका में एक्टिविटी में अंतर और मोटापे के ज्यादा मामले देखने को मिले। स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा किए गए इस सर्वे में रिसर्च ने 46 देशों के 7 लाख लोगों पर सर्वे किया। लोगों के स्मार्टफोन में इन्सटॉल स्टेप काउन्टर्स की मदद से लोगों की वॉकिंग ऐक्टिविटी को ट्रैक किया गया।

भारत को 39वां स्थान

इस लिस्ट में भारत को 39वां स्थान हासिल हुआ है। भारत में लोग औसतन एक दिन में 4297 कदम चलते हैं। लिस्ट के मुताबिक हांगकांग के लोग सबसे ज्यादा मेहनती और एक्टिव होते हैं, वो एक दिन में औसतन 6880 स्टेप चलते हैं। जबकि इस लिस्ट में इंडोनेशिया सबसे नीचे है, वहां के लोग सबसे ज्यादा सुस्त हैं, वो एक दिन में औसतन 2 से 3 किलोमीटर ही 3513 कदम चलते चल पाते हैं जबकि अमेरिकी 4774 कदम चलते हैं। इस सूची में टॉप देशों में हांगकांग, चीन, यूक्रेन, जापान शामिल हैं, ये औसतन 6 हजार कदम चलते हैं। वहीं लिस्ट में नीचे के देशों में मलेशिया, इन्डोनेशिया, सउदी अरब शामिल हैं, जहां पर लोग औसतन 3900 कदम चलते हैं।

ये भी पढ़ें-2026 तक इन तीन चीजों में दुनिया में नंबर वन हो जाएगा भारत

कई किमी दूर जाना पड़ता है पानी भरने।

फिटनेस के मामले में महिलाएं पीछे

इस सर्वे के मुताबिक कई देशों में एक्सरसाइज के मामले में महिलाओं और पुरुषों की संख्या में भी काफी अंतर है। रिसर्च टीम को यह जानकर हैरानी हुई कि जापान जैसे देशों में मोटापा और असमानता काफी कम है। यहां महिला और पुरुष एक साथ एक्सरसाइज करते हैं, लेकिन अमरीका और सऊदी अरब जैसे देशों में एक्सरसाइज में भारी अंतर देखने को मिला है। यहां महिलाएं फिटनेस के मामले में कम समय देती हैं।

सऊदी अरब में इसी कारण से महिलाओं की शिक्षा में शारीरिक शिक्षा को शामिल किया जा रहा है। शोधकर्ता ज्यूरे लेस्कोवेक ने कहा, ''जब भी एक्टिविटी में असमानता बढ़ती है, महिलाओं की एक्टिविटी का स्तर पुरुषों के मुकाबले काफ़ी नाटकीय ढंग से गिरा है। इसका असर महिलाओं में मोटापे के तौर पर ज्यादा देखने को मिला है।'' विशेषज्ञों और डायटिशन के अनुसार फिट रहने के लिए प्रतिदिन 10 हजार कदम चलना जरूरी है। लोगों को लगता है कि सुबह एक घंटे की वॉकिंग से एक्सरसाइज़ पूरी हो जाती है, लेकिन ऐसा नहीं है, पूरा दिन ऐक्टिव रहना जरुरी है।

ये रही पूरी लिस्ट

  • हांगकांग: 6880 (सबसे ज्यादा फिट)
  • चीन: 6189
  • यूक्रेन: 6107
  • रूस: 5969
  • ब्रिटेन: 5444
  • भारत: 4297
  • मलेशिया: 3963
  • सऊदी अरब: 3807
  • इंडोनेशिया: 3513 (सबसे ज्यादा आलसी)

Share it
Top